पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्न सम्मान पर बोले उनके भतीजे, ‘कांग्रेस को मोदी सरकार से सीखने की जरूरत’

0
25

नई दिल्ली, 9 फरवरी (आईएएनएस)। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किए जाने की घोषणा पीएम मोदी ने की। नरेंद्र मोदी ने अपने एक्स अकाउंट पर लिखा, “यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमारे पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव गारू को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा।”

पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने की घोषणा पर उनके भतीजे पीवी मदन मोहन ने आईएएनएस को प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का तहेदिल से इसके लिए शुक्रिया अदा करते हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पीवी नरसिम्हा राव को भारत रत्न मिलने का इंतजार लंबे समय से परिवार के लोग कर रहे थे।

उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी ने इस पुरस्कार के लिए उनके नाम की घोषणा कर हमारे घाव को भर दिया है। इसके साथ ही तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के लोग इस घोषणा से बेहद खुश हैं। वारंगल जिले की जनता भी इस घोषणा के बाद से उत्साहित है और खुशी मना रही है। तेलंगाना सरकार की तरफ से भी केंद्र सरकार से इस बात की मांग की गई थी कि पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव को भारत रत्न पुरस्कार दिया जाए।

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस ने इस पुरस्कार को लेकर नरसिम्हा राव की अनदेखी की। कांग्रेस ने पीवी नरसिम्हा राव की अनदेखी की, उसके बाद से कांग्रेस का क्या हश्र हुआ यह सभी ने देखा है। इस बात को पूरे देश की जनता भी समझ रही है। कांग्रेस अगर इन सारे कामों को नहीं कर सकती है तो कम से कम उनको अभी की नरेंद्र मोदी सरकार से सब कुछ सीखना चाहिए। कांग्रेस के समय में पुरस्कार एक परिवार के लिए सिमट के रह गया था लेकिन, नरेंद्र मोदी सरकार के समय यह देखने को मिल रहा है कि जमीनी स्तर पर काम करने वाले लोगों को चिन्हित कर उनके योगदान को देखते हुए देश के प्रतिष्ठित पुरस्कार दिए जा रहे हैं।

इसके साथ ही पीवी नरसिम्हा राव के भाई पीवी मनोहर राव ने आईएएनएस को दिए साक्षात्कार में नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा उनको भारत रत्न दिए जाने पर पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया।

उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह 10 साल तक देश के पीएम रहे और कांग्रेस की सरकार रही तब भी वह नरसिम्हा राव को भारत रत्न नहीं दे सके। आज ऐसे में हमारे परिवार के सभी लोगों को इस घोषणा से बेहद खुशी हो रही है।

पीवी मनोहर राव ने आगे कहा कि अब नरसिम्हा राव को भारत रत्न मिला इस पर किसी तरह की राजनीतिक बयानबाजी की जरूरत नहीं है। उन्हें भारत रत्न मिलना चाहिए था जो मिल गया।

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस के कई नेता भी चाहते रहे कि नरसिम्हा राव को भारत रत्न मिलना चाहिए। लेकिन, वह संभव नहीं हो पाया, अब कांग्रेस की लीडरशिप को बहुत दुख हो रहा है। मोदी सरकार के दौरान छोटे-छोटे लोगों को सम्मानित किया जा रहा है, जो बेहतर कदम है।

उन्होंने आगे कहा कि जिस मनमोहन सिंह ने पीवी नरसिम्हा राव के साथ मंत्रिमंडल में काम किया और 10 साल वह प्रधानमंत्री रहे तो उन्होंने यह सम्मान उन्हें नहीं दिया। मोदी सरकार ने उन्हें यह सम्मान दिया इसके लिए उनका आभार।