प्लेऑफ की दौड़ में बने रहने के लिए भिड़ेंगे जमशेदपुर और बेंगलुरू

0
21

जमशेदपुर, 10 फरवरी (आईएएनएस) इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) 2023-24 में एक और कांटे की टक्कर देखने को मिल सकती है, जब बेंगलुरू एफसी रविवार को शाम 7:30 बजे जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में मेजबान जमशेदपुर एफसी से भिड़ेगी।

ये दोनों ऐसी टीमें हैं जो नए हेड कोच के आने पर अचानक सकारात्मक प्रदर्शन करने लगी हैं, लेकिन रेड माइनर्स इस समय जिस लय में हैं वो वास्तव में उल्लेखनीय है। खालिद जमील की देखरेख में उनके प्रदर्शन में सुधार कलिंगा सुपर कप में दिखाई दिया, जहां उन्होंने सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए सभी प्रतिद्वंद्वियों को हराया।

जमशेदपुर एफसी ने ब्रेक के बाद आईएसएल अभियान की फिर से शुरुआत धीमी गति से की और नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी के खिलाफ बढ़त गंवाकर 1-1 से ड्रा खेला। हालांकि, उन्होंने मैच के दूसरे हाफ में तीन गोल करके वापसी की और मुम्बई सिटी एफसी को 3-2 से हराया, जिससे सभी का ध्यान आकर्षित हुआ।

ब्लूज ने अपने दक्षिण भारतीय प्रतिद्वंद्वी चेन्नइयन एफसी को 1-0 से हराकर जीत की राह पर वापसी की। ये स्कोरलाइन वो नहीं दिखाती, जो मैच में हुआ। लेकिन जेरार्ड जरागोजा की टीम पूरे 90 मिनट के दौरान हावी थी। उन्होंने कई मौके बनाए और उनमें से कुछ को गंवाए भी। यह एक ऐसा पैटर्न है जिसे उसे जमशेदपुर एफसी के खिलाफ दोहराने की उम्मीद होगी।

मुम्बई सिटी एफसी के घर में दो गोल से पिछड़ने के बाद मैच जीत लेने का कारनामा बहुत ज्यादा टीमें नहीं कर पाती हैं, और जमील को टीम की ताकत का उचित इस्तेमाल करवाने के लिए श्रेय दिया जाना चाहिए। उनका अगला लक्ष्य टीम के अंदर निरंतरता की भावना भरना होगा, ताकि रेड माइनर्स लगातार ऐसे प्रभावशाली परिणाम दे सकें।

दोनों पक्षों के बीच पिछले मैच में जमशेदपुर एफसी पर ब्लूज को 1-0 से जीत मिली थी, जिसमें जावी हर्नांडेज ने हाफ टाइम से ठीक पहले मिली पेनल्टी को गोल में बदला था। हेड कोच जमील चाहेंगे कि उनके सभी खिलाड़ी डिफेंस से लेकर अटैक तक अपने खेल में शीर्ष पर रहें ताकि दमदार दिखने वाली बेंगलुरू एफसी इकाई पर जीत हासिल की जा सके।

जरागोजा बेंगलुरू एफसी द्वारा पिछले मैच में क्लीन शीट बनाए रखने से खुश होंगे, क्योंकि क्लब ने जनवरी ट्रांसफर विंडो में अपनी डिफेंस को मजबूत करने में भारी निवेश किया था। निखिल पुजारी और चिंगलेनसाना सिंह की जोड़ी शामिल करके डिफेंस को सुदृढ़ किया गया है, और यह वास्तव में पुजारी की कड़ी मेहनत थी। उन्होंने ब्लूज को आगे बढ़ने में मदद की जिसके कारण रयान विलियम्स का चेन्नइयन एफसी के खिलाफ विजयी गोल आया।

ब्लूज सेट-पीस के दौरान रक्षण करने में थोड़ा कमजोर हैं, पिछले मैच में आइलैंडर्स ने उसी कमजोरी पर हमला किया था। यह वो क्षेत्र है जिस पर बेंगलुरू एफसी को ज्यादा ध्यान देना चाहिए। हर्नांडेज और छेत्री ने मिलकर कुछ अलग सेट-पीस रूटीन की कोशिश की, लेकिन चेन्नइयन एफसी के खिलाफ इन पर गोल नहीं कर सके। जमशेदपुर एफसी के खिलाफ थोड़ी बेहतर दक्षता के साथ इसी तरह के प्रयास टीम को फायदा पहुंचा सकते हैं।

जमशेदपुर एफसी के मुख्य कोच खालिद जमील ने मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “मैंने पहले भी कहा है कि हमने जो भी नतीजे हासिल किए हैं वह खिलाड़ियों की मेहनत से हैं। विदेशी खिलाड़ी काफी परिपक्व हैं और कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सीनियर भारतीय खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और युवा भी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं। इसलिए यह सभी के संयुक्त प्रयासों का मिश्रण है।”

बेंगलुरू एफसी के स्पेनिश हेड कोच जेरार्ड जरागोजा ने मैच से पहले कहा, “यह हमारे लिए एक महत्वपूर्ण मुकाबला है, लेकिन यह उतना ही अहम है जितना कि यह हमारे लिए चेन्नइयन एफसी के खिलाफ या उनके लिए मुम्बई सिटी एफसी के खिलाफ था। वे छठे स्थान के लिए लड़ रही पांच-छह टीमों में से एक हैं। लिहाजा यह पिछले 10 वर्षों में आईएसएल का सबसे कठिन सीजन है।”

–आईएएनएस

आरआर/