बिहार जदयू के अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने कहा, ‘परिवारतंत्र पर लोकतंत्र भारी’

0
9

पटना, 4 जून (आईएएनएस)। बिहार में लोकसभा की 40 सीटों पर मतों की गिनती जारी है। शुरुआती रुझानों में एनडीए बढ़त की ओर जाता दिख रहा है। एनडीए में शामिल जदयू के बिहार प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने कहा कि शुरुआती रुझान से साफ है कि परिवारतंत्र पर लोकतंत्र हावी है।

उन्होंने कहा कि बिहार में हमलोग विकास के मुद्दे पर चुनाव में गए थे और शुरुआती रुझान से साफ है कि यहां के मतदाताओं को यह मुद्दा पसंद आया। लोगों को नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी की करिश्माई जोड़ी पर भरोसा है।

कुशवाहा ने यह भी माना कि इतने कड़े मुकाबले की उम्मीद नहीं थी, फिर भी अभी शुरुआती रुझान हैं और हमें परिणाम का इंतजार करना चाहिए। जनता को एनडीए पर भरोसा है। उन्होंने एनडीए पर कहा कि हो सकता है कि एक-दो सीट का नुकसान उठाना पड़े।

चुनाव आयोग के मुताबिक, शुरुआती रुझान में एनडीए 31 सीटों पर आगे चल रहा है और महागठबंधन 9 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। बिहार में एनडीए में भाजपा, जदयू, लोजपा (रामविलास), जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा और उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक मोर्चा शामिल है।

बिहार की 40 लोकसभा सीट में भाजपा ने 17, जदयू ने 16, लोजपा (रामविलास) ने 5 तथा जीतनराम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा ने एक-एक सीट पर प्रत्याशी दिए हैं।

दूसरी ओर महागठबंधन में राजद ने 26, कांग्रेस ने 9 और वामपंथी दलों ने 5 सीटों पर चुनाव लड़ा है। राजद ने अपने कोटे से तीन सीट मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी को दी थी। मुकेश सहनी की पार्टी ने गोपालगंज, झंझारपुर और मोतिहारी में अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

–आईएएनएस

एमएनपी/एबीएम