बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार और विभागों का बंटवारा नहीं होने पर सियासत शुरू

0
21

पटना, 2 फरवरी (आईएएनएस)। बिहार में एनडीए की सरकार बने करीब पांच दिन गुजर गए, लेकिन, अब तक मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा नहीं हो सका है। इसे लेकर अब सियासत शुरू हो गई है।

दरअसल, मंत्रिमंडल विस्तार नहीं होने और विभाग के बंटवारा नहीं होने को लेकर विपक्ष सवाल उठा रहा है।

जब शुक्रवार को इस मामले पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी से पूछा गया तब उन्होंने दावा करते हुए कहा कि जल्द मंत्रालय का बंटवारा हो जाएगा। नीतीश कुमार को यह करना है।

चौधरी ने आगे कहा कि राजद को इस पर नहीं बोलना चाहिए। राजद का जो इतिहास जानते हैं उनको पता होना चाहिए कि वो तो 1995 में 12 मंत्रालय में ही डेढ़ साल तक सरकार चलाते रहे। अभी तो हमलोग 9 मंत्री हैं। दो-दो उपमुख्यमंत्री हैं। आगे मंत्रिमंडल में जल्द ही विस्तार होगा।

विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख मुकेश सहनी ने कहा कि जब तक उपमुख्यमंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सम्राट चौधरी अपने सिर से पगड़ी नहीं हटाते, तब तक स्थिति को ‘सामान्य’ नहीं माना जाएगा। चौधरी ने सितंबर 22 में नीतीश को राज्य की गद्दी से हटाने के बाद ही अपनी पगड़ी उतारने की घोषणा की थी।

उन्होंने कहा कि बिहार में केवल सरकार बदली है। लेकिन, अभी भी बहुत कुछ बाकी है।

भाजपा के प्रवक्ता मनोज शर्मा कहते हैं कि मंत्रिमंडल का विस्तार और विभागों का बंटवारा कोई बड़ा मुद्दा नहीं है। जल्द ही सब कुछ हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि 28 जनवरी को नीतीश कुमार के साथ अन्य आठ मंत्रियों ने शपथ ली थी।