भाजपा आपातकाल को काला दिवस के रूप में मना रही, पार्टी दफ्तर के बाहर लगाया पोस्टर

0
11

नई दिल्ली, 25 जून (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मंगलवार को आपातकाल को काला दिवस के रूप में मना रही है। दिल्ली भाजपा प्रदेश दफ्तर के बाहर होर्डिंग भी लगाए गए हैं।

दिल्ली भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर होर्डिंग पर ’25 जून 1975 लोकतंत्र का काला दिवस, कभी न भूलने वाला आपातकाल’ लिखा है।

भाजपा ने अपने एक्स अकाउंट पर एक पोस्टर भी शेयर किया, जिस पर लिखा है कांग्रेस की काली करतूत व लोकतंत्र के सबसे काले अध्याय 25 जून 1975 आपातकाल के विरोध में उठ रहे हर स्वर का हृदय से वंदन।

इसके कैप्शन में लिखा कि भारतीय लोकतंत्र और राजनीति के सबसे काले अध्याय, आपातकाल (25 जून, 1975), का विरोध करने और लोकतांत्रिक मूल्यों की आस्था को संजोकर रखने वाले सभी सत्याग्रहियों को सादर नमन।

इस बीच केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने अपने एक्स अकाउंट पर पोस्ट किया, “देश में लोकतंत्र की हत्या और उस पर बार-बार आघात करने का कांग्रेस का लंबा इतिहास रहा है। साल 1975 में आज के ही दिन कांग्रेस के द्वारा लगाया गया आपातकाल इसका सबसे बड़ा उदाहरण है।”

उन्होंने आगे लिखा कि अहंकार में डूबी, निरंकुश कांग्रेस सरकार ने एक परिवार के सत्ता सुख के लिए 21 महीनों तक देश में सभी प्रकार के नागरिक अधिकार निलंबित कर दिए थे। इस दौरान उन्होंने मीडिया पर सेंसरशिप लगा दी थी, संविधान में बदलाव किए और न्यायालय तक के हाथ बाँध दिए थे। आपातकाल के खिलाफ संसद से सड़क तक आंदोलन करने वाले असंख्य सत्याग्रहियों, समाजसेवियों, श्रमिकों, किसानों, युवाओं व महिलाओं के संघर्ष को नमन करता हूं।

बता दें कि 25 जून 1975 को ही इंदिरा गांधी ने ‘आपातकाल’ की घोषणा की थी। भाजपा 25 जून को आपातकाल को काला दिवस के रूप में मना रही है।