भारत मंडपम में पीएम मोदी देशभर से जुटे भाजपा नेताओं को देंगे लोकसभा चुनाव में जीत का मंत्र

0
20

नई दिल्ली, 2 फरवरी (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भाजपा इस बार अपना राष्ट्रीय अधिवेशन 17-18 फरवरी को नई दिल्ली के प्रगति मैदान के भारत मंडपम में करने जा रही है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के उद्घाटन भाषण से 17 फरवरी को राष्ट्रीय अधिवेशन का प्रारंभ होगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समापन भाषण के साथ 18 फरवरी को अधिवेशन का समापन होगा।

प्रधानमंत्री मोदी अपने समापन भाषण में लगातार तीसरी बार जनादेश पाने के लिए देशभर से जुटे पार्टी नेताओं को जीत का मंत्र देंगे कि उन्हें किन मुद्दों को लेकर देश के लोगों के पास जाना है।

लोकसभा चुनाव के लिहाज से यह बैठक कितनी महत्वपूर्ण रहने वाली है, उसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी एवं राष्ट्रीय परिषद के सभी सदस्य, राज्यसभा एवं लोकसभा के सभी सांसद, पार्टी के सभी विधायक एवं विधान परिषद सदस्य, पूर्व सांसद, राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश पदाधिकारी, कोर कमेटी, अनुशासन समिति, वित्त समिति, चुनाव समिति के सदस्य, सभी मोर्चो के पदाधिकारी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, लोकसभा क्लस्टर प्रभारी, लोकसभा प्रभारी, लोकसभा संयोजक एवं लोकसभा विस्तारक, राष्ट्रीय प्रवक्ता, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता, प्रदेश मीडिया संयोजक, प्रदेश सोशल मीडिया, आईटी संयोजक, मोर्चों के प्रदेश अध्यक्ष एवं महासचिव, प्रकोष्ठों के प्रदेश संयोजक, देश के सभी जिलों के सभी जिला अध्यक्ष एवं जिला प्रभारी, नगर निगमों, नगर पालिकाओं एवं नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष, जिला पंचायत के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष, राज्य स्तरीय बोर्ड एवं निगमों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष, पार्टी द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों की राष्ट्रीय टीम, क्षेत्र एवं विभाग अध्यक्ष सहित कई अन्य नेता भी शामिल होंगे।

सूत्रों के मुताबिक, पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों, नारों, रणनीति और चुनावी मुद्दों सहित चुनाव से जुड़े सभी पहलुओं पर चर्चा होने की संभावना है। बैठक में मोदी सरकार के दस वर्षों के कार्यकाल की अहम उपलब्धियों खासकर अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा, अर्थव्यवस्था और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हासिल की गई उपलब्धियों को लेकर प्रस्ताव पेश किया जा सकता है।

घरेलू स्तर पर राजनीतिक स्थिरता देने और नक्सलवाद एवं आतंकवाद की कमर तोड़कर देश में आंतरिक शांति स्थापित करने के लिए भी बैठक में मोदी सरकार को बधाई दी जाएगी। बैठक में लोकसभा चुनाव का एजेंडा रखा जाएगा और साथ ही देश के मतदाताओं से भारी बहुमत के साथ लगातार तीसरी बार केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनाने के लिए वोट करने का आग्रह भी किया जाएगा।