मध्य प्रदेश : अपने चुनाव से निपट चुके दिग्गजों ने संभाली प्रचार की कमान

0
15

भोपाल, 10 मई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में होने वाले चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार जोर पकड़ चुका है। इस चरण के प्रचार के लिए वे दिग्गज नेता भी मैदान में उतर आए हैं, जो अपना चुनाव निपटा चुके हैं। राज्य में लोकसभा की 29 सीटें हैं, जिनमें से 21 पर तीन चरणों में मतदान हो चुका है और चौथे चरण में 8 सीटों पर मतदान होने वाला है।

तीसरे चरण में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और राज्य के दो पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के निर्वाचन क्षेत्र में मतदान हो चुका है। दोनों पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और दिग्विजय सिंह अपने निर्वाचन क्षेत्र का चुनाव निपटाने के बाद गुरुवार से उन सीटों पर सक्रिय हो गए हैं, जहां पर चौथे चरण में मतदान होना है।

दिग्विजय सिंह रतलाम झाबुआ संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया के समर्थन में आयोजित जनसभा और अन्य कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे। उन्होंने केंद्र सरकार की नीतियों की जमकर आलोचना की। पूर्व मुख्यमंत्री सिंह पूरे चुनाव के दौरान अपने संसदीय क्षेत्र राजगढ़ में ही रहे और किसी अन्य स्थान पर प्रचार करने नहीं पहुंचे। मतदान होने के बाद अब वे चुनाव प्रचार में जुट गए हैं।

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की चुनाव के हर चरण में विभिन्न क्षेत्रों से मांग रही और यही कारण रहा कि वे अपने संसदीय क्षेत्र विदिशा के अलावा अन्य इलाकों में भी प्रचार करने पहुंचे। तीसरे चरण में उनके संसदीय क्षेत्र में मतदान हो चुका है और अब चौथे चरण के चुनाव के प्रचार के लिए पूरी तरह सक्रिय हो गए हैं। गुरुवार को उन्होंने खंडवा संसदीय क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने गांधी परिवार पर जमकर हमला किया। उन्होंने मोदी सरकार की नीतियों की जमकर सराहना भी की।