मध्य प्रदेश में जल जीवन मिशन में गड़बड़ी का आरोप, विपक्ष का सदन से वॉक आउट

0
23
  • भोपाल, 5 जुलाई। मध्य प्रदेश विधानसभा में जल जीवन मिशन में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए विपक्षी दल कांग्रेस के विधायकों ने प्रश्नकाल के दौरान हंगामा किया और नारेबाजी करते हुए सदन से बहिर्गमन किया।

विधानसभा का मानसून सत्र चल रहा है। शुक्रवार को सत्र का पांचवा दिन है और इस दौरान राज्य के सांची विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक डॉ प्रभु राम चौधरी ने जल जीवन मिशन को लेकर सवाल किया।

उन्होंने जानना चाहा कि सांची विधानसभा के कितने गांव इस योजना के अंतर्गत स्वीकृत हैं, कितने गांव में काम पूरा हो चुका है। अगर ऐसा हुआ है तो उसकी सूची उपलब्ध कराई जाए।

उन्होंने आरोप लगाया कि सांची विधानसभा क्षेत्र में कई गांव ऐसे हैं जहां नल तो लगे हैं, मगर पानी नहीं आता। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा काम पूरा होना बताया जाता है। इसकी जांच के लिए समिति बनाई जाए और दोषियों पर कार्रवाई की जाए।

नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने नल से पानी मिलने की व्यवस्था हो इसके लिए वे कलेक्टर को निर्देश जारी करेंगे।

इसी दौरान नेता प्रतिपक्ष ने जल जीवन मिशन में बड़े घोटाले का आरोप लगाया और मांग की कि सरकार को दोषियों पर कार्रवाई करनी चाहिए।

प्रश्नकाल के दौरान बनी स्थिति पर विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने टोका, इससे असंतुष्ट विपक्ष के विधायकों ने सदन से बहिर्गमन कर दिया।

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार का आरोप है कि कई गांवों के घरों तक पानी नहीं पहुंच रहा है। वहीं पृथ्वीपुर के विधायक नितेंद्र सिंह राठौर ने भी गड़बड़ी के आरोप लगाए हैं।