मध्य प्रदेश में नर्सिंग प्रवेश परीक्षा के नतीजे जारी करने की मांग

0
20

भोपाल, 13 जून (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में नर्सिंग कॉलेज में प्रवेश के लिए आयोजित परीक्षाओं के नतीजे घोषित नहीं किए जाने के विरोध में अभ्यर्थियों ने एनएसयूआई के नेतृत्व में प्रदर्शन किया। परीक्षा के रिजल्ट जल्दी घोषित नहीं करने की स्थिति में मुख्यमंत्री आवास के घेराव की चेतावनी भी दी।

राज्य के कई जिलों से एनएसयूआई मेडिकल विंग के नेतृत्व में राजधानी भोपाल के जेपी अस्पताल पहुंचकर छात्राओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन करने वाली छात्राओं ने बताया कि उन्होंने शासकीय नर्सिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए 2023 में पीएनएसटी का एग्जाम दिया है। मगर, अभी तक परिणाम जारी नहीं किया गया।

एनएसयूआई के नेता रवि परमार ने बताया कि 2022-23 सत्र में प्रवेश के लिए पीईबी (व्यापम) द्वारा प्री नर्सिंग सेलेक्शन टेस्ट की परीक्षा जुलाई 2023 में आयोजित की गई थी। परीक्षा देने के बाद एक से दो महीने के अंतराल में रिजल्ट घोषित कर दिया जाता है। मगर, 2023 में आयोजित परीक्षा का रिजल्ट अभी तक घोषित नहीं किया गया है।

रवि परमार ने बताया कि 66,000 परीक्षार्थियों ने पीईबी के माध्यम से परीक्षा दी थी, करोड़ों रुपए परीक्षा शुल्क के रूप में जमा किए गए, लेकिन रिजल्ट जारी नहीं किया गया। वहीं, प्राइवेट नर्सिंग कॉलेजों में धड़ल्ले से प्रवेश हो रहे हैं। ‌इससे सरकार की मंशा स्पष्ट हो चुकी है कि प्राइवेट नर्सिंग कॉलेज को मुनाफा पहुंचाने के लिए ही शासकीय नर्सिंग कॉलेजों के लिए प्रवेश परीक्षा के परिणाम घोषित नहीं किए गए, जिसकी वजह से 2022 से मध्य प्रदेश के शासकीय नर्सिंग कालेज में एक भी छात्रा को प्रवेश नहीं मिला है।