ममता बनर्जी के इंडिया गठबंधन को समर्थन देने के बयान पर बिहार में सियासत गरमाई

0
8

पटना, 16 मई (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर बाहर से समर्थन देने के बयान को लेकर बिहार की सियासत गर्म हो गई है। एनडीए के नेता जहां इस बयान को लेकर निशाना साध रहे हैं, वहीं, महागठबंधन के नेता बचाव में उतर गए हैं।

बिहार के मंत्री मंगल पांडेय ने ममता बनर्जी के बयान पर कहा कि बंगाल में लड़ाई और दिल्ली में मलाई यह कैसे चलेगा। ममता बनर्जी को इस बात का अंदाजा हो गया है कि हार सुनिश्चित है।

उन्होंने आगे कहा कि इंडिया गठबंधन की सरकार नहीं बन रही है। भाजपा पश्चिम बंगाल में 30 से अधिक सीट जीत रही है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की हार सुनिश्चित है और इंडिया गठबंधन की हार सुनिश्चित है।

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि यह उनका अपना मत है। यह तो अच्छी बात है। वह यदि बोल रही हैं कि हम सरकार को बाहर से समर्थन देंगे तो यह काफी अच्छी बात है। इसमें यह समझना चाहिए कि हमारी सरकार बनने जा रही है और इसको लेकर हमें टेंशन लेने की जरूरत नहीं, भाजपा के सोचने वाली बात है।

महागठबंधन में शामिल विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री हमारे इंडिया गठबंधन को समर्थन देंगी तो यह हमारे लिए अच्छी बात है। ममता बनर्जी को भी पता चलने लगा है कि हमारी सरकार बनने जा रही है। भाजपा को तो कोई समर्थन देने के लिए नहीं आ रहा है। सब नेता को पता है कि भाजपा की सरकार बनने नहीं जा रही है।

लोजपा (रामविलास) के प्रमुख चिराग पासवान ने कहा कि इंडी गठबंधन भानुमति का कुनबा है। आम आदमी पार्टी पंजाब में कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ रही है, जबकि दिल्ली में कांग्रेस के साथ है। वहीं, ममता बनर्जी अब इंडिया गठबंधन को समर्थन देने का ऐलान कर रही हैं। यहां किसी की कोई नीति और विचारधारा नहीं है।