महिलाओं को हजार रुपये महीना न मिले, इसलिए सीएम को जेल में डाला : सुनीता केजरीवाल

0
13

नई दिल्ली, 5 मई (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्‍नी सुनीता केजरीवाल ने रविवार को दक्षिणी दिल्ली में रोड शो किया। इस दौरान उन्होंने जनता से ‘जेल का जवाब वोट से’ देने की अपील की। सुनीता केजरीवाल का रोड शो

उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की हर महिला को हर महीने एक हजार रुपये देने का ऐलान किया था, इसलिए उन्हें जेल में डाल दिया गया, ताकि महिलाओं को एक हजार रुपये महीना न मिल सके। भाजपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि ये लोग चाहे कुछ भी कर लें, सीएम केजरीवाल अपनी माताओं-बहनों को हजार रुपये महीना देकर ही दम लेंगे।

देवली विधानसभा क्षेत्र में रोड शो के दौरान सुनीता केजरीवाल ने कहा, “इन्होंने आपके सीएम अरविंद केजरीवाल को जबरदस्ती जेल में डाला हुआ है। अभी तक किसी कोर्ट ने उनको दोषी नहीं माना है। ये लोग कह रहे हैं कि जांच चल रही है। क्या यह जांच 10 साल चलेगी तो ये लोग अरविंद को 10 साल जेल में रखेंगे?”

उन्होंने कहा, “अरविंद केजरीवाल सच्चे देशभक्त, ईमानदार और पढ़े-लिखे व्यक्ति हैं। भाजपा ने जेल में अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन बंद कर दी। उनका शुगर लेवल 300 के पार पहुंच गया। अगर ऐसा ही रहा तो अरविंद केजरीवाल की किडनी और लीवर खराब हो जाएगी। बड़ी मुश्किल से कोर्ट जाकर हमने परमिशन ली कि अरविंद को इंसुलिन दी जाए। इन लोगों ने गुंडागर्दी मचा रखी है।”

सुनीता ने कहा कि दिल्ली की जनता ने अरविंद केजरीवाल को तीन बार मुख्यमंत्री बनाया। भाजपा के लोगों को खटकता है कि दिल्ली के लोग अरविंद केजरीवाल को इतना प्यार क्यों करते हैं। भाजपा की तानाशाही चरम पर है, लोकतंत्र खतरे में है। इनकी तानाशाही यूं ही जारी रही तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा। “अब आप सबको अपने वोट की ताकत को समझना होगा और सही फैसला लेना होगा।”

उन्होंने कहा कि 25 मई को सभी वोट देने जरूर जाएं और झाड़ू का बटन दबाकर इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी सहीराम पहलवान को जिताएं, क्‍योंकि तानाशाही को हराना है।