मुरादाबाद सीट से सपा प्रत्याशी रुचि वीरा का मुस्लिम बाहुल्य इलाके में हो रहा भारी विरोध

0
10

मुरादाबाद, 2 अप्रैल (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी ने इस बार मुरादाबाद सीट से एसटी हसन का टिकट काटकर रुचि वीरा पर दांव लगाया है। इसके बाद एसटी हसन के समर्थक सपा के शीर्ष नेतृत्व से नाराज हैं। वो सपा के इस फैसले की खुलकर आलोचना कर रहे हैं। बीते दिनों एसटी हसन समर्थकों ने रुचि वीरा का पुतला तक फूंका था।

इस बीच, रुचि वीरा मुस्लिम बाहुल्य इलाके में चुनाव प्रचार करने पहुंची, तो उन्हें लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें कांग्रेस पार्षद सद्दाम हुसैन एक सभा को संबोधित करते हुए नजर आ रहे हैं।

अपने संबोधन में उन्होंने कहा, “रुचि वीरा जी, आप मुरादाबाद में गठबंधन की प्रत्यासी बन कर आई हो, अच्छी बात है। मगर डॉ एसटी हसन साहब, सैय्यद हैं, वो हमारे नवी के परिवार से तालुक्क रखते हैं। मैं आपको बता दूं, हम सब लोग सय्यदों के गुलाम हैं, हम सय्यदों की इज्जत करते हैं और उनके लिए हम अपनी गर्दन कटा देंगे, अपने आप को तबाह कर देंगे, शहीद कर देंगे, मगर हम उनका अपमान नही झेल सकते।”

कांग्रेस पार्षद ने आगे कहा, “आप पूरी लोकसभा में घूमती फिर रही हैं, लेकिन आप एक बार भी डॉ एसटी हसन साहब के पास नहीं गई। आपको जाना चाहिए था।”

सपा प्रमुख अखिलेश यादव द्वारा मुरादाबाद सीट से टिकट काटे जाने के बाद एसटी हसन ने कहा था कि अखिलेश यादव ने मझे सूचित किया कि मुझे इस सीट से नामांकन दाखिल करना है, लेकिन ऐन वक्त पर एक मोहतरमा ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया। जाहिर सी बात है कि किसी कारण ही अखिलेश ने मेरा टिकट काटकर रुचि वीरा को चुनावी मैदान में उतारने का फैसला किया है।