मैट्रिज एग्जिट पोल : यूपी-उत्तराखंड में कौन होगा विजेता, किसकी होगी हार

0
15

नई दिल्ली, 2 जून (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव आखिरकार खत्म हो गया है। लोकसभा चुनाव सात चरणों में कराए गए। 19 अप्रैल को पहले चरण के लिए और एक जून सातवें और आखिरी चरण के लिए वोटिंग हुई। चुनाव के नतीजे मंगलवार (4 जून) को घोषित किए जाएंगे।

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले मैट्रिज एग्जिट पोल सामने आया है, जिसमें उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में किस पार्टी को कितनी सीटें मिल रही है? जनता का मिजाज कैसा है? इन सवालों के जवाब एग्जिट पोल के जरिए जानने की कोशिश की गई है।

सबसे पहले उत्तर प्रदेश की बात करते हैं। एग्जिट पोल के मुताबिक, राज्य की 80 सीटों में से एनडीए गठबंधन के खाते में 69 से 74 सीटें आ सकती है। वहीं, इंडी गठबंधन को 6 से 11 सीटें आने का अनुमान है।

इसके अलावा एग्जिट पोल में बसपा सुप्रीमो मायावती की पार्टी को बड़ा झटका लगने के आसार हैं। यूपी में बहुजन समाज पार्टी के खाते में एक भी सीट नहीं आने की संभावना हैं। वहीं, अन्य को 0 सीट मिलती दिखाई दे रही है।

यूपी में भारतीय जनता पार्टी 75 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ रही है। जबकि, पांच सीटें भाजपा ने अपने सहयोगियों को दी है। इसमें अपना दल (एस) 2, राष्ट्रीय लोकदल 2 और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी एक सीट पर चुनाव लड़ी है। वहीं, समाजवादी पार्टी ने 62, कांग्रेस ने 17 और ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने एक सीट पर चुनाव लड़ा है।

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के खाते 62 सीटें आई थी। अपना दल (सोनेलाल) को 2, मायावती की बीएसपी को 10, समाजवादी पार्टी को 5 सीटें मिली थी। देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को महज 1 सीट पर जीत हासिल हुई थी।

अगर देवभूमि उत्तराखंड की बात करें तो मैट्रिज एग्जिट पोल के मुताबिक, उत्तराखंड की 5 लोकसभा सीटों में से एनडीए को 4 से 5 सीटें आ सकती है। वहीं, इंडी गठबंधन के खाते में 0 से एक सीट आने की संभावना हैं। अन्य को एक भी सीट आते नहीं दिख रहा है।

उत्तराखंड में एक चरण में 19 मई को वोट डाले गए थे। उत्तराखंड की पांच लोकसभा सीट टिहरी गढ़वाल, गढ़वाल, अल्मोड़ा, नैनीताल- उधमसिंह नगर और हरिद्वार है।

2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने क्लीन स्वीप करते हुए उत्तराखंड की सभी पांच सीटों पर जीत हासिल की थी।