रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय का प्रतिष्ठा आयोजन ‘‘शोध शिखर 2024’’ 3-4 मई को

0
6

भोपाल : 18 अप्रैल/ रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय व सहयोगी संस्थाओं द्वारा अंतर्राष्ट्रीय शोध और नवाचार सम्मेलन ‘‘शोध शिखर 2024’’ का आयोजन 03 और 04 मई 2024 को विश्वविद्यालय परिसर में किया जा रहा है। यह शोध शिखर का तृतीय संस्करण है। इस वर्ष का विषय ‘‘विकसित भारत-नया भारत’’ है। यह सम्मेलन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल, लोकल टू ग्लोबल, नई शिक्षा नीति, डिजिटल इंडिया, एमएसएमई, क्लीन एनर्जी, मिशन वाटर, पॉल्यूशन कंट्रोल, स्मार्ट सिस्टम्स, डिफेंस सिस्टम, साइबर सिक्योरिटी, बिजनेस मॉडल जैसे राष्ट्रीय मिशनों में शोध के माध्यम से योगदान को प्रोत्साहित करेगा।

प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी शोध शिखर के अंतर्गत रिसर्च पेपर ‘अनुशोधन’ और रिसर्च प्रोजेक्ट ‘नवनिर्माणी’ प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें विद्यार्थी व शोधार्थी शोध पत्रों व शोध प्रोजेक्ट प्रस्तुत करते हैं। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए मुख्य थीम इनोवेशन और टेक्नोलॉजी, एग्रीकल्चर और अलाइड सांइसेज, कंटेंपरेरी साइंस एण्ड टेक्नोलॉजी, एनवायरमेंट सस्टेनेबिलिटी, इकोनामिक डेवलपमेंट है।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रजनी कांत ने बताया कि विकासशील भारत से विकसित भारत बनाने की दिशा में यह सम्मेलन एक मील का पत्थर साबित होगा। वहां कुलसचिव डाॅ. विजय सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय शोध शिखर के माध्यम से युवाओं को एक नया प्लेटफार्म उपलब्ध करा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि राष्ट्र की तरक्की में शोध और नवाचार का प्रमुख रोल होता है। यह विश्वविद्यालय इसी दिशा में युवाओं को प्रेरित करने का सतत कार्य कर रहा है। शोधार्थियों के द्वारा रिसर्च पेपर और रिसर्च प्रोजेक्ट शोध शिखर के लिये जमा किए जा सकते हैं।