राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा शुरू, माइक बंद करने के आरोप पर बिफरे स्पीकर बिरला

0
19

नई दिल्ली, 1 जुलाई (आईएएनएस)। सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच चली खींचतान के बाद आखिरकार सोमवार को लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा शुरू हो गई।

इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विपक्षी दल खासकर कांग्रेस द्वारा शुक्रवार को उन पर राहुल गांधी का माइक बंद किए जाने के लगाए गए आरोपों पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा कि बाहर जाकर यह आरोप लगाया जाता है कि माइक बंद कर दिया जाता है। यह सही नहीं है। आसन पर सभी दल के सांसद बैठते हैं और सभी जानते हैं कि इस आसन से जिनका नाम बोलने के लिए पुकारा जाता है, उनका ही माइक ऑन होता है। स्पीकर की चेयर पर माइक बंद करने का कंट्रोल नहीं होता। इसलिए यह आक्षेप लगाना सही नहीं है।

हालांकि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा शुरू होने से पहले एक बार फिर राहुल गांधी ने स्पीकर बिरला की अनुमति मिलने के बाद खड़े होकर नीट पर अलग से एक दिन चर्चा कराने की मांग की।

राहुल गांधी ने कहा कि वे चाहते थे कि नीट पर एक दिन सदन में अलग से चर्चा हो, 2 करोड़ युवाओं का नुकसान हुआ है। पिछले 7 साल में 70 बार पेपर लीक हुए हैं। इस संसद से पूरे देश को एक संदेश जाता है, इसलिए हम देश के विद्यार्थियों को संसद से संदेश भेजना चाहते हैं कि नीट का मसला इस संसद के लिए जरूरी है।

राहुल गांधी के जवाब में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पूरा सदन यह जानता है कि सदन की कार्यवाही नियमों और प्रक्रियाओं के आधार पर चलती है। नियमों और प्रक्रियाओं के अलावा संसद की कुछ परंपराएं भी हैं जिनके आधार पर सदन की कार्यवाही चलती है।

सिंह ने आगे कहा कि अपने लंबे संसदीय जीवन में उन्होंने आज तक यह नहीं देखा कि जब राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर सदन में चर्चा शुरू होती है तो अन्य किसी विषयों पर उस समय चर्चा हुई हो। इसलिए वे विपक्ष के सभी साथियों से भी आग्रह करना चाहते हैं कि आप जिस विषय पर भी चर्चा करना चाहते हैं, आप करें लेकिन एक बार राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव को संसद में पारित करने के बाद ही करें।

राहुल गांधी ने राजनाथ सिंह की बात को स्वीकार कर लिया। इसके बाद बिरला ने कहा कि राजनाथ सिंह ने सुझाव दिया है और इस पर फैसला स्पीकर और बीएसी करेगी।

इसके बाद, भाजपा की तरफ से पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद का प्रस्ताव सदन में पेश किया। इससे पहले लोकसभा ने भारतीय क्रिकेट टीम को टी-20 क्रिकेट विश्व कप जीतने पर बधाई दी। सदन ने टीम इंडिया के सभी खिलाड़ियों और कप्तान रोहित शर्मा को बधाई देते हुए भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दी।