राहुल के बयान पर सियासी बवाल, भाजपा नेता आरपी सिंह ने बताया ‘मुंगेरीलाल के हसीन सपने’

0
12

नई दिल्ली, 11 जून (आईएएनएस)। राहुल गांधी ने रायबरेली में बयान दिया कि अगर मेरी बहन प्रियंका गांधी वाराणसी से चुनाव लड़ जाती तो नरेंद्र मोदी 2 से 3 लाख वोटों से चुनाव हारते। इस बयान को लेकर अब भाजपा उनके ऊपर हमलावर हो गई है। राहुल गांधी के इस बयान पर आईएएनएस के साथ बातचीत में बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता आरपी सिंह ने करारा हमला बोला है।

आरपी सिंह ने कहा है कि राहुल गांधी कुछ भी बयान दे सकते हैं। पीएम मोदी के सामने कोई चुनाव नहीं जीत सकता। अगर हिम्मत थी तो प्रियंका ने नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव क्यों नहीं लड़ा। मुंगेरीलाल के हसीन सपने कोई भी देख सकता है, आगे भी चुनाव है प्रियंका गांधी चुनाव लड़ सकती हैं, उन्हें किसी ने रोक नहीं है।

उन्होंने आगे कहा कि हां चुनाव में हार-जीत का अंतर थोड़ा कम और ज्यादा हो सकता है। लेकिन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने इस समय कांग्रेस का कोई भी नेता चुनाव नहीं जीत सकता है।

आरपी सिंह ने कहा कि राहुल गांधी को बोलिए की वह रायबरेली खाली कर दे और फिर देख लेंगे। वह खुद अमेठी से भागे और रायबरेली से चुनाव लड़े। वह प्रियंका गांधी को 2027 में कहीं से भी चुनाव लड़ाकर देख लें। अब तो यूपी में विधानसभा का चुनाव जो 2027 में होना है, नजदीक ही है, उन्हें पता लग जाएगा। इनको चुनाव लड़ने से डर लगता है। इसलिए वह इस तरह की बातें करते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री के बराबर कद का कोई कद्दावर नेता अभी देश में नहीं है। चुनाव में ऊपर नीचे चलता रहता है। लेकिन, यह सोच लेना की पीएम मोदी को चुनाव हरा देंगे यह उनलोगों की भूल है। ऐसा ही था तो प्रियंका वाड्रा को उन्हें अमेठी या रायबरेली से चुनाव लड़ा लेना चाहिए था, उन्हें खुद पता चल जाता।

वहीं राहुल गांधी के बयान पर कांग्रेस के नेता उदित राज ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि राहुल गांधी ने बिल्कुल सही कहा है। पीएम मोदी डेढ़ लाख के मामूली अंतर से जीते हैं। अगर पीएम मोदी के खिलाफ वहां से प्रियंका वाड्रा खड़ी होती तो वह 5 लाख से ज्यादा वोटों से जीततीं। यह चुक हो गई है।

पीएम मोदी को लेकर उदित राज ने कहा कि जो खुद ही अपने आप को वोट नहीं दिला पाए, वह पार्टी को क्या वोट दिला पाएंगे। पीएम मोदी की पॉपुलरिटी अब नहीं बची है। पीएम मोदी के द्वारा अपने समर्थकों से मोदी का परिवार अपने सोशल मीडिया से हटाने के आग्रह करने के सवाल पर उदित राज ने कहा कि उनके साथ लोग कहां खड़े थे। उनकी पार्टी की 62-63 सीटें कम हुई है।

वहीं पीएम मोदी के बयान की भारत की प्रगति के लिए काम करेंगे इसको लेकर उदित राज ने कहा कि, दो बार जब वह प्रगति नहीं कर पाए तो तीसरी बार क्या प्रगति करेंगे। अब तो और सत्यानाश हो जाएगा। वह मजबूती के साथ नहीं खड़े हैं बल्कि और कमजोर हुए हैं। जब वह दो बार में मजबूत नहीं हो पाए तो अब क्या हो पाएंगे। मंत्रीमंडल की लिस्ट को लेकर उन्होंने कहा कि इसी को देखकर ज्यादा निराशा हो रही है। उन्होंने सहयोगी दलों को दिए गए मंत्रालय पर भी सवाल उठाए।