वसंतोत्सव से चीन की अर्थव्यवस्था को मिलेगी नई ऊंचाई

0
22

बीजिंग, 2 फरवरी (आईएएनएस)। चीन का पारंपरिक वसंत उत्सव इस बार दस फरवरी से शुरू होने जा रहा है। जिस तरह भारत में दीपावली और होली की धूम रहती है, कुछ वैसी ही स्थिति चीन में वसंत उत्सव को लेकर होती है।

जिस तरह भारतीय होली और दीपावली का पूरे साल इंतजार करते हैं, अपनी तमाम ख्वाहिशों को इन त्योहारों पर पूरा करने का सपना संजोए रखते हैं, कुछ उसी तरह चीन के नागरिक भी वसंत उत्सव को लेकर अपनी जिंदगी और खुशियां मनाने के उत्सव के रूप में लेते हैं।

इस बार चीनी वसंत उत्सव दस फरवरी से शुरू हो रहा है। जिस तरह चीन के लोगों में इस त्योहार को लेकर उत्साह दिख रहा है, उससे उम्मीद जताई जा रही है कि चीन की घरेलू अर्थव्यवस्था को इससे नई ताकत मिलेगी। इस साल जनवरी के शुरू में हुए एक सर्वेक्षण के अनुसार करीब 82 प्रतिशत लोगों ने कहा है कि वे चीनी नव वर्ष की पूर्व संध्या पर डिनर के लिए खाने का सामान खरीदेंगे और अपने परिवार और दोस्तों के लिए उपहारों पर खर्च करेंगे।

चीन में वसंत उत्सव के दौरान बच्चों को घर-परिवार के बड़े लोगों की ओर से लाल लिफाफा देने का रिवाज है। इसमें घर-परिवार के लोग अपने बच्चों को इस लिफाफे में रकम देते हैं। इस सर्वे के मुताबिक, इस बार 79 प्रतिशत लोगों ने लाल लिफाफे को लेकर विशेष योजना बनाई है। इस सर्वेक्षण में शामिल 77 प्रतिशत लोगों ने घर को बसंतोत्सव पर सजाने की अपनी योजना का इजहार किया है।

इसी तरह अपने घर की सफाई को लेकर 72 प्रतिशत लोगों ने अपनी तैयारियों का जिक्र किया है। इस सर्वेक्षण के अनुसार वसंतोत्सव के मौके पर आतिशबाजी के लिए 55 प्रतिशत लोगों ने अपनी योजना की जानकारी दी है, वहीं, 36 प्रतिशत लोगों ने अपनी घरेलू रसोई के सामानों को बदलने या सुधरवाने पर जोर दिया है।

जाहिर है कि इस वजह से चीन में वसंतोत्सव के दौरान खूब खरीददारी होनी है। इस खरीददारी से स्थानीय बाजार में उत्साह बढ़ने की संभावना है। इसका असर उत्पादकों पर भी पड़ेगा और आखिरकार इसका फायदा चीन की अर्थव्यवस्था को भी मिलेगा।

चीनी वसंत महोत्सव या नए साल का जश्न, चीनी नव वर्ष की शुरुआत का प्रतीक है। आमतौर पर यह चीन के पारंपरिक कैलेंडर के 12वें महीने के 23वें दिन से शुरू होता है। इस वर्ष यह 10 फरवरी को पड़ रहा है। यह उत्सव आमतौर पर पहले चंद्र माह के 15वें दिन पूरा होता है।

इस त्योहार के दौरान दुकानें और अन्य कारोबार पारंपरिक चीनी कैलेंडर के पहले महीने के पांचवें दिन तक खुल जाते हैं। यहां ध्यान देने की बात है कि चीन और मॉरीशस के वसंत महोत्सव में कई समानताएं हैं। ऐसी मान्यता है कि इस उत्सव को दुर्भाग्य से बचने की परंपरा के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन स्वादिष्ट पारंपरिक चीनी व्यंजनों की तैयारी के साथ शुरू किया जाता है।

(वरिष्ठ भारतीय पत्रकार- उमेश चतुर्वेदी)

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)