विकसित भारत एंबेसडर: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, यूपीए सरकार जो सोचती रही, एनडीए सरकार ने उसे पूरा किया

0
15

नई दिल्ली, 27 मार्च (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर में ‘विकसित भारत एंबेसडर’ कार्यक्रम में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने कुछ साल पहले सोचा भी नहीं था कि जम्मू-कश्मीर में आईआईटी, आईआईएम, एम्स भी बन सकता है। लेकिन, “मोदी है तो मुमकिन है”। उन्होंने मोदी सरकार और यूपीए सरकार के 10 साल के कार्यकालों की तुलना भी की।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यूपीए सरकार जिन कामों के बारे में सोचती रही। उसे मौजूदा सरकार ने 10 साल के अंदर पूरा कर दिया। यूपीए सरकार में 50-50 साल तक कोई प्रोजेक्ट पूरे नहीं होते थे। मुंबई में कोस्टल रोड 1966 में सोचा गया था। लेकिन, इसकी शुरुआत 2018 में मोदी सरकार ने की और 2024 में कोस्टल रोड बन भी गया। वे 40 साल सोचते रहे, लेकिन मोदी सरकार ने छह साल में इसे पूरा कर दिया। इसी तरह मुंबई हार्बर लिंक रोड 2024 में बनाया। कोलकाता अंडरवाटर मेट्रो के बारे में 1969 में सोचा गया था, हमने पांच साल में इसे बनाकर पूरा कर दिया। कांग्रेस ने गोवा में मोपा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बारे में 15 साल पहले सोचा था, लेकिन हमने चार साल में बनाकर पूरा कर दिया।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि 2020 में जब देश और दुनिया के सामने कोरोना जैसी बड़ी चुनौती थी। ऐसा कहा जा रहा था कि भारत में भुखमरी और महामारी से करोड़ों लोग मर जाएंगे। तब प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश ने इस संकट की घड़ी का मजबूती से सामने किया। कोरोना काल में भारत ने दो-दो वैक्सीन बनाई। साथ ही देशवासियों को 200 करोड़ मुफ्त वैक्सीन डोज लगाई और 157 देशों को वैक्सीन मैत्री के माध्यम से वैक्सीन देने का काम किया।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि क्या कारण था कि साल 2004 से 2014 तक देश की अर्थव्यवस्था कमजोर होती चली गई। इसका कारण था बढ़ती महंगाई, रुपये में गिरावट और विदेशी कर्ज का लगातार बढ़ता जाना। यूपीए सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि उस वक्त की सरकार में भ्रष्टाचार, क्रोनी कैपिटलिज्म, पॉलिसी पैरालिसिस या राजनीतिक इच्छा शक्ति का अभाव था। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह अर्थशास्त्री थे, लेकिन उनके कार्यकाल में देश की अर्थव्यवस्था चरमरा रही थी, क्योंकि रिमोट कंट्रोल किसी और के हाथ में था। सरकार कहीं और से चल रही थी। इसलिए हमारी रेटिंग भी गिरती गई और एफडीआई भी कम होता चला गया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार के आने के बाद से भारत शीर्ष पांच अर्थव्यवस्थाओं में पहुंच गया है। यह विकास तेज गति से हुआ, जीडीपी ग्रोथ 4.5 प्रतिशत से बढ़कर 8.4 प्रतिशत हो गई। आज भारत दुनिया में भारत सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है। पिछली सरकार के 10 साल के कार्यकाल में महंगाई दर 12 प्रतिशत थी जो आज कम होकर 6.7 फीसदी है। यूपीए सरकार में एफडीआई 36 अरब डॉलर थी जो आज 85 अरब डॉलर है। निर्यात मात्र 300 अरब डॉलर था जो आज दोगुने से ज्यादा यानि 770 अरब डॉलर है।

अनुराग ठाकुर ने कृषि क्षेत्र में विकास के बारे में कहा कि नमो ड्रोन दीदी योजना में एक महिला को ड्रोन उड़ाने के लिए 15 हजार रुपये मिलेंगे, जबकि को-पायलट को 10 हजार रुपये मिलेगा। देश में इसके जरिए हजारों ड्रोन दीदी बनेंगी। इसके साथ ही डीबीटी के माध्यम से लाभार्थियों के खाते में सीधा पैसा जाता है। कमीशन खाने वालों को खत्म कर दिया गया। आज देश के सभी लोगों का आधार कार्ड बन चुका है।

उन्होंने कहा कि आज विपक्ष कह रहा है कि लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है। जबकि छह करोड़ 43 लाख लोगों का नया पंजीकरण ईपीएफओ के पास हुआ है। आज 29 करोड़ लोगों को ई-श्रम कार्ड मिल चुके हैं, नए श्रम कानून बन चुके हैं। रेहड़ी-पटरी वालों को पहले पैसा नहीं मिलता था। मोदी सरकार ने कोरोना काल के समय उन्हें 10-10 हजार रुपये दिए।