सरकार बनी तो सीबीआई-ईडी के मामले लिए जाएंगे वापस : खड़गे

0
13

पटना, 11 मई (आईएएनएस)। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए तमाम सियासी मुद्दों पर खुलकर अपनी राय जाहिर की। इस दौरान महागठबंधन में शामिल सभी दलों के नेता उपस्थित रहे।

इंडिया गठबंधन के पीएम चेहरे के सवाल के जवाब में खड़गे ने कहा कि प्रधानमंत्री के चेहरे को लेकर कोई परेशानी नहीं है। गठबंधन के लोग बैठकर विचार करेंगे और जिनका नाम तय होगा, वह इंडिया गठबंधन की तरफ से देश का प्रधानमंत्री बनेगा। उन्होंने आगे कहा कि पहले भी हम लोगों ने गठबंधन की सरकार सफलतापूर्वक चलाई है और कई अच्छी योजनाएं भी लाई है।

उन्होंने आगे कहा कि अगर देश में गठबंधन की सरकार बनती है तो सीबीआई और ईडी की ओर से जो मामले दर्ज किए गए हैं, उन्हें वापस लिए जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि जो मामले कानून सम्मत दर्ज किए गए हैं, वो चलेंगे।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनको झूठ बोलने का अधिकार प्राप्त है और बोलते रहते हैं। वे बेरोजगारी और महंगाई तथा किए गए वादों को लेकर कुछ नहीं बोल रहे, केवल धर्म और हिन्दू-मुसलमान की बात कर रहे हैं। जनता उनके बांटने की नीति को समझ गई है। महंगाई और बेरोजगारी को लेकर लोग परेशान और गुस्से में हैं।

कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर के बयान को लेकर खड़गे ने सफाई पेश करते हुए कहा कि सैम पित्रोदा ने खुद इस्तीफा दिया और कांग्रेस ने उसे स्वीकार भी कर लिया, इसके बाद बात खत्म हो गई। वहीं मणिशंकर अय्यर के बयान पर उन्होंने कहा कि भाजपा का काम ही पुराने बयानों को हवा देना है। वे सभी बयानों को तोड़-मरोड़ कर पेश करती रहती है।

खड़गे ने पांच किलो मुफ्त अनाज दिए जाने पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि हम लोग 35 किलो अनाज देते थे, लेकिन कभी इसका प्रचार नहीं किया। भाजपा इसके जरिए चुनावी लाभ लेने की जुगत में जुटी हुई है।