सीताराम येचुरी ने इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर जताया संशय

0
20

नई दिल्ली, 4 जून(आईएएनएस)। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीतराम येेचुरी ने केंद्र में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर संशय जताया है। उन्होंने कहा कि मतगणना के प्रारंभिक रुझानों से अभी यह नहीं कहा जा सकता कि किसकी सरकार बनेगी।

मंगलवार दोपहर पत्रकारों से बात करते हुए माकपा नेता ने कहा कि मतगणना के रुझानों को देखते हुए अभी यह कहना बहुत जल्दबाजी होगी कि केंद्र में किसकी सरकार बनेगी। हालांकि उन्होंने इंडिया गठबंधन द्वारा अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद जताई। माकता नेता ने कहा कि दोनों ही गुटों के बीच कांटे की लड़ाई हुई है। इसलिए जब तक सभी सीटों का चुनाव परिणाम सामने नहीं आ जाता, तब तक यह कहना बहुत मुश्किल है कि किसकी सरकार बनेगी।

येचुरी ने एग्जिट पोल को निरर्थक बताते हुए कहा कि इसका वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं था। यह मात्र शेयर बाजार को प्रभावित करने के लिए लाया गया था। इसके जरिए बाजार में तेजी लाकर कुछ लोग कमाई कर गए। निहित स्वार्थी लोगों ने एग्जिट पोल का दिखावा किया था। माकपा नेता ने कहा कि चुनाव परिणाम एग्जिट पोल के उलट होने जा रहे हैं।

येचुरी ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियां आम आदमी के अनुकूल नहीं हैं। सरकार केवल संपन्न वर्ग के लिए काम कर रही है। यही कारण हैै कि देश में आर्थिक असमानता बढ़ती जा रही है। अमीर और अमीर होता जा रहा है और गरीब और गरीब होता जा रहा है। आम आदमी की परेशानी को दूर करने के लिए सरकार कोई काम नहीं कर रही। इसीलिए जहां देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है, वहीं लोगों की आय भी घटती जा रही है। इसलिए केंद्र की आगामी सरकार को आम आदमी के हित में कार्य करना होगा, ताकि वो भी विकास की मुख्य धारा में शामिल हो सकें।