हरियाणा में किसानों ने की सम्मान निधि की राशि बढ़ाने की मांग

0
9

भिवानी, 10 जून (आईएएनएस)। तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी ने शपथ ले ली है। इसके बाद वो एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। सोमवार को कार्यभार संभालने के तुरंत बाद उन्होंने पीएम किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त जारी कर दी। इससे 9.3 करोड़ किसानों को फायदा मिलेगा।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की इस किस्त में किसानों को लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का लाभ मिलने वाला है। पीएम मोदी के इस फैसले को लेकर हरियाणा के भिवानी जिले के किसानों ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

किसान हरि किशन का कहना है कि पीएम मोदी का यह अच्छा फैसला है। मेरा मानना है कि किसान सम्मान निधि की राशि को बढ़ाया जाना चाहिए। इसे तीन से चार हजार किया जाना चाहिए जिससे किसान का खर्चा पूरा हो सके। फसल बेचने से किसान की लागत की भरपाई नहीं हो पा रही है। बुआई, बीज का खर्चा बढ़ गया है, ऐसे में मोदी सरकार को इस सम्मान राशि में इजाफा करना चाहिए।

वहीं किसान पुरुषोत्तम तंवर का कहना है कि देश की कुर्सी संभालते ही पीएम मोदी का यह फैसला जनहित में है। इस समय किसानों को पैसे की जरूरत है। इस पैसे से किसान अपने बीज, बुआई का खर्च निकाल सकता है। पीएम मोदी से गुजारिश है कि इस सम्मान निधि में इजाफा कर तीन हजार किया जाए।

नरेंद्र कुमार नाम के एक किसान का कहना है कि प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हुए पीएम मोदी ने अपनी कलम से जो किस्त जारी की है, इसके लिए मैं उनका धन्यवाद करता हूं। मैं मानता हूं कि पीएम मोदी के तीसरे कार्यकाल में किसानों के हित में तमाम बेहतर फैसले लिए जाएंगे।

बता दें, किसान सम्मान निधि के तहत हर किसान को साल में तीन बार दो-दो हजार रुपये की किस्त दी जाती है। केंद्र सरकार ने योजना की 16वीं किस्त चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले 28 फरवरी को जारी की थी।

हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में विपक्ष ने किसानों का मुद्दा जोर-शोर से उठाया था।