‘हिंदुत्व को हिंसा से जोड़ना अत्यंत दुर्भाग्यजनक’, राहुल गांधी के भाषण पर आरएसएस का बयान

0
13

नई दिल्ली, 1 जुलाई (आईएएनएस)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा लोकसभा में हिंदू को लेकर दिए गए भाषण की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि हिंदुत्व को हिंसा से जोड़ना अत्यंत दुर्भाग्यजनक है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने राहुल गांधी के भाषण पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि संसद में जो जिम्मेदार और महत्वपूर्ण पद पर बैठे हुए हैं, उनके (राहुल गांधी) द्वारा हिंदुत्व को हिंसा से जोडना अत्यंत दुर्भाग्यजनक है।

संघ के वरिष्ठ नेता ने आगे कहा कि हिंदुत्व, चाहे स्वामी विवेकानंद का हो या गांधी का, वो तो सौहार्द व बंधुत्व का ही परिचायक है। हिंदुत्व के बारे में ऐसी प्रतिक्रिया ठीक नहीं है।

बता दें कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान सोमवार को विपक्ष के नेता राहुल गांधी द्वारा हिंदू को लेकर दिए गए भाषण पर विवाद गहरा गया है।

लोकसभा के पटल पर ही राहुल गांधी के भाषण पर कड़ा ऐतराज जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पूरे हिंदू समाज को हिंसक कहना गंभीर विषय है।

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी लोकसभा में राहुल गांधी के भाषण पर ऐतराज जताते हुए कहा कि राहुल गांधी ने करोड़ों हिंदुओं का अपमान किया है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए।