एग्जिट पोल के नतीजों से भाजपा गदगद, विपक्ष को चार जून का इंतजार

0
12

लखनऊ, 1 जून (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले शनिवार को एग्जिट पोल में यूपी में भाजपा को काफी बढ़त मिलती दिख रही है। वहीं, विपक्षी इंडिया गठबंधन को नुकसान होता नजर आ रहा है। एग्जिट पोल पर भाजपा, कांग्रेस और सपा ने प्रतिक्रिया दी है। एग्जिट पोल से जहां भाजपा गदगद है, वहीं विपक्ष को चार जून को नतीजे उसके पक्ष में आने का इंतजार है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता आनंद दुबे कहते हैं कि विपक्ष की आदत है कि वह हर बार एग्जिट पोल को नकारता है और हर बार ईवीएम पर आरोप लगाता है। अभी ईवीएम पर रुदाली बाकी है। इसके बाद चुनाव आयोग पर सवाल उठाएगा। विपक्ष की तरफ से चार जून को दोपहर दो बजे से ये सारी चीजे शुरू हो जाएंगी। एग्जिट पोल ने जनता का रुझान दिखाया हैं। जनता जो महसूस करती है, वह चैनलों के एग्जिट पोल पर नजर आ रहा है। अभी तो यह झांकी है। चार जून को पूरी तस्वीर आना अभी बाकी है।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अंशू अवस्थी कहते हैं कि एग्जिट पोल कुछ भी कहे, 4 जून को जो जनता का एग्जिट पोल है, जो हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया है 295 सीटें, वह जनता के एग्जिट पोल का आधार संख्या है। यह संख्या उससे और ऊपर भी जायेगी। हमने प्रत्येक लोकसभा में लोगों से बात कर ये संख्या घोषित की है। जनता ने पीएम मोदी के मंगलसूत्र, मटन, मछली, पाकिस्तान, मुजरा जैसे मुद्दों को नकार दिया है। देश के युवा, किसान और आधी आबादी नारी शक्ति समझ चुकी है।

उन्होंने कहा, भाजपा और मोदी के पास न तो अपनी 10 साल कोई उपलब्धि है और न ही आगे पांच साल में क्या करेगें वह बता पाए। वह सिर्फ ध्यान भटकाने का काम करते रहे, पूरे चुनाव में देश के जनमानस ने राहुल गांधी पर भरोसा किया है, कांग्रेस ने अपने न्याय पत्र और जनता के मुद्दों पर वोट मांगा है। जनता ने बदलाव का मन बना लिया है। 4 जून को देश में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने जा रही है।

सपा के प्रदेश प्रवक्ता अशोक यादव कहते हैं कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पहले ही एग्जिट पोल को लेकर कार्यकर्ताओं को आगाह कर दिया है। लोगों का ध्यान भटकाने के लिए एग्जिट पोल लाए जाएंगे। यह हमारे कार्यकर्ताओं का मनोबल गिराने की साजिश है, ताकि वे काउंटिंग में ढीले पड़ जाएं। अपना आत्म विश्वास खो दें। जमीनी हकीकत से एग्जिट पोल के आंकड़े मैच नहीं कर रहे हैं। जिस प्रकार जनता का पेपर लीक, अग्निवीर और महंगाई को लेकर आक्रोश था, वह एग्जिट पोल में नजर नहीं आ रहा है। हम चार जून के परिणाम को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है। नतीजे हमारे पक्ष में रहेंगे।

— आईएएनएस

विकेटी/सीबीटी