‘एनडीटीवी इंडियन ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड्स में महिलाओं का बोलबाला

0
9

नई दिल्ली, 24 मार्च (आईएएनएस)। एनडीटीवी ने साल के अपने सबसे बड़े कार्यक्रम ‘एनडीटीवी इंडियन ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड्स के जरिए उल्लेखनीय कार्य करने वाले देश के खास और आम लोगों को सम्मानित किया। कार्यक्रम के दौरान देश की कई बेटियों को भी सम्मानित किया गया। उल्लेखनीय है कि यह सम्मान उस वर्ष (2023) के लिए दिया गया, जब केंद्र में ‘नारी शक्ति’ थी – एक ऐसा साल जब संसद में महिला आरक्षण विधेयक पारित हुआ।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, टेनिस दिग्गज सानिया मिर्जा, स्क्वाड्रन लीडर निकिता मल्होत्रा, नैना लाल किदवई, भारतीय महिला क्रिकेट टीम और इसरो की महिला वैज्ञानिकों ने ये पुरस्कार प्राप्त किये। ‘स्पोर्ट्स परफॉर्मेंस ऑफ द ईयर’ का पुरस्कार पैरा-एथलीट और मोटिवेशन स्‍पीकर सुवर्णा राज के साथ ही भारतीय महिला क्रिकेट टीम को दिया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, हरदीप सिंह पुरी और अश्विनी वैष्णव; टेनिस स्टार सानिया मिर्जा; अभिनेता सनी देओल; और जोमैटो के सीईओ दीपिंदर गोयल भी मौजूद रहे।

भारतीय पैरा-एथलीट सुवर्णा राज ने इस मौके पर कहा कि उन्हें खुद को साबित करने में 35 साल लग गए। उन्होंने बताया कि दो साल की उम्र में ही वह पोलियो का शिकार हो गई थीं। ऐसे में माता-पिता के लिए बचपन से ही जिम्मेदारी बन गईं। जब वह 33 साल की थीं तो राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया था, “तब मेरे माता-पिता बहुत ही ज्यादा खुश हुए”। उन्होंने आगे कहा कि समाज दिव्यांगों को अलग नजरिए से देखता है, लेकिन “मैं समाज का एक हिस्सा बनना चाहती हूं”। उन्होंने कहा कि एक करोड़ से ज्यादा दिव्यांग वोटर्स इस देश में हैं, जो समाज की मुख्यधारा में जुड़े रहना चाहते हैं।

टेनिस स्‍टार सानिया मिर्जा ने महिलाओं से कहा कि वे सबसे पहले खुद पर विश्वास करें। यह सबसे महत्वपूर्ण है। महिला सशक्तीकरण के बारे में काफी बात होती है, लेकिन महिलाओं को सबसे पहले खुद के सशक्तीकरण से शुरू करना चाहिए।

वहीं, अभिनेत्री और सोशल मीडिया इंफ्लूएंसर प्राजक्ता कोली को ‘क्लाइमेट इन्फ्लुएंसर ऑफ द ईयर’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। टेनिस दिग्गज सानिया मिर्जा ने कोली को सम्मानित किया। प्राजक्ता कोली के इंस्टाग्राम पर 30 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

इसके साथ ही अभिनेत्री कुशा कपिला को ‘सोशल इंपेक्‍ट इंफ्लूसर ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से नवाजा गया। उन्हें केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सम्मानित किया।

महिलाओं को ‘इंडियन ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से नवाजे जाने के बाद स्मृति ईरानी ने कहा कि सशस्त्र बलों की सर्वोच्च कमांडर एक महिला हैं और यह बहुत खुशी की बात है। उन्होंने महिलाओं को अपनी ताकत को पहचानने और अपना भाग्य खुद तय करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि महिलाएं हर क्षेत्र में आगे हैं।