कांग्रेस को सेना से नफरत और पाक से मुहब्बत : पीएम मोदी

0
10

खरगोन, 7 मई (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों के गठबंधन पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन को भारतीय सेना से नफरत और पाकिस्तान से मुहब्बत है। साथ ही उन्हें जनता की नहीं अपने बेटा-बेटी की चिंता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खरगोन व खंडवा के भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में आयोजित जनसभा में कहा कि आज मैं विकसित भारत के संकल्प के लिए आशीर्वाद मांगने आया हूं। नर्मदा तट पर रहने वाला मांगने वाले को निराश नहीं करता और आज मैं आपसे मांगने आया हूं।

उन्होंने आगे कहा कि देश को आगे बढ़ाने में गांव में शहर में जो मेहनत कर रहे हैं, पसीना बहा रहे हैं, वही देश की ऊर्जा बढ़ाता है और जब इसे आपकी एक वोट की ताकत मिल जाती है तो कायाकल्प होने लगता है। इस एक वोट ने भारत को पांचवी बड़ी आर्थिक ताकत बनाया। एक वोट ने दुनिया में भारत का दबदबा बढ़ाया, एक वोट ने 70 साल बाद आर्टिकल 370 हटाया, एक वोट ने एक आदिवासी बेटी को राष्ट्रपति बनाया, एक वोट ने महिलाओं को आरक्षण का हक दिलवाया, एक वोट ने भ्रष्टाचारियों को जेल भिजवाया, मुफ्त राशन, मुफ्त इलाज की गारंटी दी। युवाओं के भविष्य को संवार दिया और अपार अवसर दिया। 25 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाल दिया। एक वोट की ताकत देखिए। 500 साल की प्रतीक्षा खत्म कर भगवान का भव्य मंदिर बना दिया। ये तो ट्रेलर है, अभी तो बहुत कुछ करना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने आरोप लगाया कि दूसरी तरफ इंडी गठबंधन वाले चुनाव लड़ रहे हैं, अपनी विरासत बचाने के लिए। अपने बच्चों को अपनी पार्टी सौंपकर जाने के लिए, इन्हें आपके सुख-दुख से कोई फर्क नहीं पड़ता। इंडी वालों की एक कहावत है, मैं आधी बात बताता हूं, पूरी आप करना। अपना काम बनता, दुनिया भाड़ में जाए। जिनको पूरी कहावत मालूम है, तो फिर आप उनके लिए क्या सोचेंगे।

उन्होंने आगे कहा पाकिस्तान में आतंकी भारत के खिलाफ जिहाद की धमकी दे रहे हैं और यहां के कांग्रेस के लोगों ने भी घोषणा कर दी है कि मोदी के खिलाफ वोट जिहाद करो, यानी मोदी के खिलाफ एक खास धर्म के लोगों को एकजुट होकर वोट करने को कहा जा रहा है।

उन्होंने जनता से पूछा कि क्या वोट जिहाद मंजूर है, क्या लोकतंत्र में यह बात चल सकती है क्या। कांग्रेस के इरादे कितने भयानक हैं, उनकी साजिश इतनी खतरनाक है कि यह समझना हो तो आपने उनकी बातें सुनी होंगी, जो 20 से 25 साल कांग्रेस में रहे, जो कांग्रेस के कार्यकर्ता, नेता रहे हैं और ये लोग अब कांग्रेस छोड रहे हैं। यह अजीब सी बात है और बाहर आकर खुली हवा में सांस लेते हैं।

कांग्रेस छोड़ने वाले नेताओं के बयान का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, एक महिला ने कहा मैं मंदिर गई तो इतना टॉर्चर किया कि उन्हें कांग्रेस ही छोड़ना पड़ गया और एक व्यक्ति ने कहा कि कांग्रेस पर मुस्लिम लीग और माओवादियों ने कब्जा कर लिया है। तीसरे ने कहा कांग्रेस के शहजादे का इरादा राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पलटने का है। जैसे शहजादे के पिताजी ने शाहबानो प्रकरण में फैसला बदला था, वैसे ही कांग्रेस राम मंदिर का फैसला पलटने की सोच रही है।