चीनी इलेक्ट्रिक गाड़ी के प्रति अमेरिका का भेदभावपूर्ण रवैया : चीनी विदेश मंत्रालय

0
12

बीजिंग, 6 जून (आईएएनएस)। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता माओ निंग ने गुरुवार को हुई प्रेस वार्ता में कहा कि चीन की व्यावसायिक भत्ता नीति विश्व व्यापार संगठन का सख्त पालन करती है और हमेशा निष्पक्षता, पारदर्शिता और गैर भेदभाव सिद्धांत पर कायम रहती है। उसमें डब्ल्यूटीओ में निर्धारित निषेधक भत्ता मौजूद नहीं है।

ध्यान रहे अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने हाल ही में टाइम्स मैगजीन को दिए एक विशेष साक्षात्कार में बताया कि चीन सरकार इलेक्ट्रिक गाड़ी के प्रति बड़ी धनराशि का भत्ता प्रदान करती है और उनको अमेरिकी बाजार में उमड़ने देती है। अमेरिकी पक्ष इसकी उपेक्षा नहीं करता।

इसके बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में प्रवक्ता ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इलेक्ट्रिक गाड़ी समेत चीनी नवीन ऊर्जा उत्पादों को बड़ा स्वागत मिला है। इसका मुख्य कारण है चीनी उद्यमों का तकनीकी सृजन, संपूर्ण उत्पादन व सप्लाई श्रृंखला और पर्याप्त बाजार स्पर्द्धा, न कि सरकारी भत्ता। व्यावसायिक भत्ता नीति का स्रोत अमेरिका और यूरोप है।

चीनी इलेक्ट्रिक गाड़ी के प्रति अमेरिका की भेदभावपूर्ण कार्रवाई डब्ल्यूटीओ नियम के विरुद्ध है और वैश्विक उत्पादन व सप्लाई चेन की स्थिरता को बर्बाद करता है और अंत में खुद के हितों पर हानि पहुंचेगी। चीन अपने वैधिक हितों की डटकर सुरक्षा करेगा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)