दहेज में मिली थी कार, पत्नी से मनमुटाव के बाद फाइनेंस वालों से बचने के लिए लगाया दूसरे का नंबर, गिरफ्तार

0
19

ग्रेटर नोएडा, 30 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के थाना बिसरख पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो दहेज में मिली कार में किसी और कार का नंबर प्लेट लगाकर उसे इस्तेमाल कर रहा था। अचानक दोनो गाड़ियां जब आमने-सामने आ गई तो मामल पुलिस तक पहुंचा। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

इस पूरी घटना में एक दिलचस्प कहानी निकलकर सामने आई है। थाना बिसरख पुलिस को 29 मार्च को नेक्सान कार (यूपी 16 डीवाई 4318) के मालिक ने सूचना दी कि उनकी कार से मिलती हुई नेक्सान कार उन्होंने देखी है जिस पर उनकी कार की ही नम्बर प्लेट लगा है। शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और 30 मार्च को आरोपी को कार समेत दबोच लिया।

पुलिस द्वारा इलेक्ट्रॉनिक सर्विलान्स और सीसीटीवी फुटेज की सहायता से अभियुक्त शिवम को देविका गोल्ड होम सोसायटी के पास से गिरफ्तार किया गया।

पुलिस पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि फरवरी 2023 में उसकी शादी हुई थी। यह नेक्सान कार उसे शादी में मिली थी जिसे ससुराल वालों ने फाइनेन्स कराया था। यह कार उसकी पत्नी के नाम थी। वास्तविक नंबर ‘डीएल 9 सीबीए 8609’ है। शादी के कुछ समय बाद शिवम का अपनी पत्नी से मनमुटाव हो गया। एक दिन वह कार अपने साथ ले आया था। इसके बाद उसकी पत्नी ने थाना मोतीनगर, पश्चिम दिल्ली में शिवम के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। शिवम ने फाइनेन्स करने वालों से बचने के लिए दहेज में मिली कार पर एक फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर देविका गोल्ड होम सोसायटी की पार्किंग में खडी कर दी थी।

पार्किंग में खड़ी इस कार पर दूसरे कार मलिक जिसका वह नंबर था उसकी नजर पड़ गई। उसके बाद मामला पुलिस तक पहुंच गया। पुलिस ने शिवम को गिरफ्तार कर उसकी गाड़ी भी जब्त कर ली है।