दिल्ली में खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री ने की समीक्षा बैठक, ट्रकों की लाइव ट्रैकिंग के दिए आदेश

0
7

नई दिल्ली, 10 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली के खाद्य-आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने बुधवार को दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (डीएससीएससी) के जनरल मैनेजर के साथ भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के गोदामों से राशन की दुकानों तक सुचारू और पारदर्शी तरीके से खाद्यान्नों के ट्रांसपोर्टेशन और समय पर वितरण की समीक्षा की।

इमरान हुसैन ने कहा कि डीएससीएससी के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे हर महीने समय पर एफसीआई के गोदामों से खाद्यान्न उठाने और संबंधित राशन दुकानों तक खाद्यान्न को सुचारू और निर्बाध तरीके से ट्रांसपोर्टेशन सुनिश्चित करें। उन्होंने डीएससीएसस अधिकारियों को व्यक्तिगत रूप से राशन दुकानों पर राशन ट्रांसपोर्टेशन की मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया और राशन की आपूर्ति एवं वितरण के संबंध में नियमित रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।

इमरान हुसैन ने इस बात पर जोर दिया कि बरसात के मौसम को ध्यान में रखते हुए राशन से भरे ट्रक को वाटर प्रूफ तिरपाल से ढकना आवश्यक है, ताकि दुकानों तक वितरण के लिए सूखा राशन उपलब्ध हो सके। उन्होंने आश्वस्त किया कि दिल्ली में पर्याप्त राशन उपलब्ध है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) 2013 के तहत उचित मूल्य की दुकानों से सुलभ और पारदर्शी तरीके से सभी राशन लाभार्थियों को मुफ्त वितरित की जा रही है। राशन ट्रक का रूट जीपीएस मैपिंग रूट के आधार पर होना चाहिए।

मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि यदि तय मार्ग में कोई डायवर्जन होता है या ऐसी कोई बात डीएससीएससी के संज्ञान में आती है, तो वे उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करें, जो खाद्यान्न के डायवर्जन, उनके परिवहन में जानबूझकर देरी जैसी गतिविधियों में शामिल हैं। ऐसी अनियमितताओं के लिए उन्हें कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

इमरान हुसैन ने डीएससीएससी अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि दिल्ली में जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम के साथ ही राशन के ट्रक सड़कों पर उतरे। मंत्री ने आगे कहा कि दिल्ली सरकार हर महीने तय समय सीमा में सभी लाभार्थियों को राशन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।