दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी ने वजीराबाद बैराज का किया दौरा

0
9

नई दिल्ली, 7 जून (आईएएनएस)। दिल्ली में जल संकट बरकरार है। लोगों को पीने का स्वच्छ पानी नहीं मिल पा रहा है। दूसरी तरफ इस पर राजनीति भी जमकर हो रही है। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से आए आदेश के बाद आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच जुबानी जंग भी तेज हो गई है।

इसी बीच दिल्ली सरकार की जल मंत्री आतिशी ने शुक्रवार को वजीराबाद बैराज का दौरा किया। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए जनता को यह बताने की कोशिश की कि यमुना का जलस्तर लगातार गिर रहा है और इसके पीछे भाजपा के साथ ही हरियाणा सरकार मिलकर साजिश रच रही है।

आतिशी अपने विभाग के अधिकारियों के साथ वजीराबाद बैराज पहुंची और वहां का दौरा किया। उन्होंने कहा कि वजीराबाद बैराज पर 2 जून से लगातार पानी का स्तर कम हो रहा है। यह 2 जून को 671.3 फीट से घटकर मात्र 669.7 फीट रह गया है। एक तरफ जहां सुप्रीम कोर्ट दिल्ली में पानी की समस्या का समाधान करने का प्रयास कर रहा है, दूसरी ओर बीजेपी शासित हरियाणा सरकार दिल्ली के लोगों के खिलाफ षड्यंत्र रच रही है।

आतिशी ने बताया कि 2 जून को यमुना का जलस्तर 671.3 फीट था। 3 जून को यह जलस्तर 671.2 फीट हो गया, उसके बाद 4 जून को जलस्तर 671.1 फीट पर पहुंच गया। 5 जून को जलस्तर 671 फीट मापा गया था। उसके बाद 6 जून को जलस्तर 670.5 फीट पहुंच गया। उनके मुताबिक शुक्रवार 7 जून को जल स्तर 669.7 फीट पहुंच गया है।

आतिशी ने इससे पहले भी आरोप लगाया था कि भीषण गर्मी में दिल्ली वालों को पानी मिलना काफी मुश्किल हो गया है। भाजपा शासित हरियाणा सरकार ना तो पानी दे रही है और ना ही हिमाचल प्रदेश से आने वाले पानी को दिल्ली की तरफ बढ़ाने को तैयार है।

इससे पहले आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आरोप लगाया था कि हरियाणा सरकार दिल्ली सरकार को मिलने वाले पानी को आगे भेजने को तैयार नहीं है। एक तरफ हिमाचल सरकार पानी देने की तैयारी कर चुकी है, लेकिन हरियाणा उसमें रोड़ा अटका रहा है।