नालंदा में चुनावी रंजिश में जदयू नेता की हत्या, लोकसभा चुनाव में बने थे पोलिंग एजेंट (लीड-1)

0
10

नालंदा, 3 जून (आईएएनएस)। बिहार के नालंदा में चुनावी रंजिश और भूमि विवाद को लेकर जदयू कार्यकर्ता की निर्मम हत्या कर दी गई। मामला परबलपुर के महुआ गांव का है। मृतक की पहचान स्वर्गीय ब्रह्मदेव प्रसाद के 60 वर्षीय पुत्र अनिल कुमार के रूप में हुई है।

मृतक अनिल कुमार की पुत्री ने बताया कि शौच के लिए आज सुबह उसके पिता खेत की ओर गए थे। जहां पर पहले से घात लगाकर बैठे गांव के ही आधा दर्जन बदमाशों ने उन पर भाला से हमला कर उनकी निर्मम हत्या कर दी।

मृतक के परिजनों ने बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान वे पोलिंग एजेंट बने थे। इसके बाद गांव के ही कुछ लोगों ने उन्हें देख लेने की धमकी दी थी और सोमवार को उनकी निर्मम हत्या कर दी गई।

वारदात की जानकारी मिलने के बाद जदयू प्रत्याशी कौशलेंद्र कुमार सदर अस्पताल पहुंचे और मृतक के परिजनों को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि अनिल कुमार जदयू के सच्चे कार्यकर्ता थे। यह पोलिंग एजेंट बने थे और इसके बाद कुछ लोगों ने उन्हें देख लेने की धमकी दी थी, उन्हीं लोगों ने उनकी हत्या कर दी है। दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी मेरी संवेदनाएं परिवार के साथ है।

मृतक की पत्नी ने बताया कि उनका अपने भाई से ही चार बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। उन्हीं लोगों ने भूमि विवाद और चुनावी रंजिश को लेकर उनके पति की हत्या करवाई है। घटना की जानकारी मिलने के बाद परवलपुर थाना अध्यक्ष पप्पू कुमार ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बिहार शरीफ सदर अस्पताल भेजा और पूरे मामले की छानबीन में जुट गए।

नालंदा जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने बताया कि मामले की निष्पक्ष जांच की जाएगी। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, मृतक पोलिंग एजेंट के रूप में कार्यरत थे। अधिकारियों द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया जा रहा है और विस्तृत छानबीन जारी है। दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी, जिससे भविष्य में इस तरह की घटना न हो सके। जांच के सभी पहलुओं पर पूरी निगरानी रखी जा रही है।