मध्य प्रदेश के पटवारी घोटाले की तरह हरियाणा में नीट घोटाला : अरुण यादव

0
17

भोपाल, 7 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस की मध्यप्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने नीट के नतीजे को लेकर पड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि मध्य प्रदेश में हुए पटवारी घोटाले की तर्ज पर ही हरियाणा में नीट घोटाला हुआ है।

देश भर के चिकित्सा महाविद्यालयों में दाखिले के लिए आयोजित की जाने वाली परीक्षा नीट के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। इन नतीजों को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने सवाल उठाए हैं और एक्स पर लिखा है, जिस तरह से मप्र की पटवारी भर्ती परीक्षा में घोटाला हुआ था, ग्वालियर के परीक्षा सेंटर से टॉपर्स निकले थे, अब वैसे ही घोटाले का तरीका नीट परीक्षा में नज़र आ रहा है। खबरों के अनुसार हरियाणा में एक ही परीक्षा सेंटर के 5 से ज्यादा बच्चों ने टॉप किया है। सरकार नीट परीक्षा में हुई गड़बड़ी की जांच कराकर दोषियों को सजा दिलाए।

पूर्व मंत्री यादव ने अपने एक्स पर राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी की परिणाम सूची को भी साझा किया है और उन नंबरों को खास तौर पर हाईलाईट किया है जो एक ही सेंटर से परीक्षा देने के बाद मेरिट सूची में आए हैं।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश में पटवारी भर्ती परीक्षा में भी एक घोटाले का मामला सामने आया था, जिसमें ग्वालियर के एक केंद्र के कई बच्चों ने टॉप किया था। यह कॉलेज एक नेता का है और पटवारी भर्ती को लेकर राज्य की सियासत में खूब हंगामा भी हुआ था।

वर्तमान में मध्य प्रदेश की राजनीति में कांग्रेस की ओर से सत्ताधारी दल भाजपा को घोटाले के नाम पर घेरने की हर संभव कोशिश की जा रही है। अभी हाल ही में राज्य में नर्सिंग घोटाला हुआ है, जिसकी सीबीआई जांच कर रही है। इस जांच के दौरान कॉलेज संचालकों से लेकर सीबीआई के अधिकारियों के गठजोड़ का भी खुलासा हुआ है और दो इंस्पेक्टर तक पर गाज गिर चुकी है।

इतना ही नहीं, बी एड कॉलेज में भी घोटाले की बात सामने आ चुकी है। इसी बीच कांग्रेस को हरियाणा में हुई कथित गड़बड़ी के जरिए भाजपा पर बड़ा हमला करने का मौका मिल गया है।