बायजू का वैल्यूएशन हुआ जीरो, एक समय 22 अरब डॉलर था कंपनी का मूल्यांकन

0
13

नई दिल्ली, 7 जून (आईएएनएस)। वित्तीय फर्म एचएसबीसी की ओर से जारी की गई एक रिपोर्ट में बताया गया कि एडटेक कंपनी बायजू का वैल्यूएशन शून्य हो गया है।

बता दें, बायजू एक समय देश की बड़ी एडटेक कंपनियों में शामिल थी और इसका वैल्यूएशन करीब 22 अरब डॉलर था।

एचएसबीसी ने बायजू में निवेश कर चुकी कंपनी प्रोसस की लगभग 10 प्रतिशत हिस्सेदारी (लगभग 500 मिलियन डॉलर) के मूल्य को शून्य कर दिया है।

एचएसबीसी की ओर से नोट में कहा गया कि कानूनी मुकदमेबाजी और फंडिंग की कमी के चलते हमने बायजू में हिस्सेदारी के मूल्य को शून्य कर दिया है।

आगे कहा गया कि इससे पहले हमने 10 प्रतिशत हिस्सेदारी को 80 प्रतिशत डिस्काउंट के साथ लेटेस्ट कंपनी के वैल्यूएशन के हिसाब से रखा था।

बता दें, एडटेक कंपनी मौजूदा समय में अपने कर्मचारियों को वेतन देने के लिए भी संघर्ष कर रही है और इसके कारण कंपनी को कई कानूनी मुकदमों का भी सामना करना पड़ रहा है।

प्रोसस के एग्जीक्यूटिव की ओर से पिछले साल के आखिर में कहा गया था कि बायजू कई सारी कानूनी मुश्किलों का सामना कर रहा है। हम कंपनी से हर दिन इसको लेकर बातचीत कर रहे हैं।

2022 की शुरुआत में बायजू अपना आईपीओ लाने की भी तैयारी कर रही थी। लेकिन खराब वित्तीय स्थिति के चलते कंपनी को इसे टालना पड़ा।

जनवरी की शुरुआत में यूएस की निवेश फर्म ब्लैकरॉक ने बायजू की वैल्यूएशन को कम कर 1 अबर डॉलर कर दिया था, जो कि 2022 की शुरुआत में 22 अरब डॉलर पर थी।

ब्लैकरॉक की बायजू में हिस्सेदारी एक प्रतिशत से कम की है।

इस हफ्ते की शुरुआत में कंपनी को कर्ज देने वाले लोगों के एक समूह ने अमेरिका में बायजू की सहयोगी कंपनी पर दिवालिया होने के खिलाफ याचिका दायर की थी। इसमें कहा गया था कि ये कंपनियां अपने कर्ज का भुगतान नहीं कर रही हैं।