राजमाता अमृता रॉय से पीएम मोदी ने की फोन पर बात, कहा- गरीबों को ईडी द्वारा भ्रष्टाचारियों से जब्त पैसा लौटाएंगे

0
14

नई दिल्ली, 27 मार्च (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार राजमाता अमृता रॉय से फोन पर बात की। पीएम ने उनसे कहा कि एक तरफ भाजपा देश से भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंकने के लिए प्रतिबद्ध है, तो दूसरी तरफ सभी भ्रष्टाचारी एक-दूसरे को बचाने के लिए एक साथ आ गए हैं।

पीएम मोदी ने विश्वास जताया कि पश्चिम बंगाल राज्य में परिवर्तन के लिए मतदान करेगा। राजमाता अमृता रॉय ने पीएम मोदी से कहा कि हम महाराजा कृष्ण चंद्र रॉय जी महाराज के परिवार से हैं इसलिए लोग हमारा विरोध कर रहे हैं, इतना ही नहीं हमें गद्दार भी समझते हैं।

उन्होंने बताया कि लोगों की भलाई के लिए कई काम हमने किए। लोगों को जमीन दान दिए। ये लोग उन सबके बारे में नहीं बोल रहे हैं। अगर हमने और हमारे परिवार ने ऐसा नहीं किया होता तो हमारा सनातन धर्म खत्म हो जाता। क्योंकि उस वक्त नवाब सिराजुद्दौला अत्याचारी और भ्रष्टाचारी थे। ऐसे में महाराजा ने अकेले यह सब नहीं किया। बहुत सारे राजाओं का मिलन हुआ उसके बाद ही यह सब हुआ। जगत सेन और भी राजाओं की मेहनत से यह काम सफल हुआ। अगर ऐसा नहीं होता तो हम हिंदू नहीं रह पाते। हमारी भाषा और वेशभूषा एकदम अलग होती। हम सब अलग हो जाते और दूसरे के अधीन रह जाते।

पीएम मोदी ने कहा कि हमें बचपन में पढ़ाया जाता था। उसमें कृष्ण चंद्र रॉय के समाज सुधारक का काम, बंगाल के विकास का काम, बंगाल के विकास का मॉडल बचपन में यह सब सुनने को मिलता था। यह लोग वोट बैंक की राजनीति करने वाले हैं, अब अनाप-शनाप बोलेंगे और 300 साल पहले की घटना निकालेंगे। बदनाम करने का प्रयास करेंगे। ये अपने वर्तमान के पाप को छुपाने के लिए ऐसी चीजें ढूढ़ते रहते हैं। लेकिन, जब भगवान राम की बात आती है। भगवान राम के जन्म के सबूत कहां है, इतनी पुरानी बात क्यों निकालते हो, कहते हैं। मगर जब कृष्णानंद जी बात आती है तो तुरंत पुरानी बातें निकालते हैं। इस प्रकार से उनका दोगलापन होता है और आपको इस बात का प्रेशर बिलकुल नहीं लेना है आपके लिए बंगाल का उज्जवल भविष्य और आपका स्वयं का जीवन भी दूसरों के लिए रहा है।

पीएम मोदी ने अमृता रॉय से पूछा कि आपके सामने बंगाल की विरासत को बचाने की भी चुनौती है, इसको आप कैसे देखते हैं। इस पर उन्होंने कहा हमारी लड़ाई लोगों की सेवा के लिए है। भ्रष्टाचार हटाने के लिए है और वंचित लोगों का उपकार करने के लिए है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि बंगाल में इन दिनों लड़ाई दो खेमों में बंट गई है। एक हमारा खेमा है जो इस देश से भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए कदम उठा रहा है और हमारे सामने वाला दूसरा खेमा है, जो भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए इकट्ठा है। एक दूसरे को बचाने के लिए लड़ाई लड़ रहा है। इसके साथ जिन्होंने पहले खुद दूसरों पर आरोप लगाए थे वो भी अब उनको बचाने में लग गए हैं। यानी उन लोगों के लिए देश प्राथमिकता में नहीं है। सत्ता ही उनकी प्राथमिकता है। इसलिए लोकसभा चुनाव में देश को भ्रष्टाचार मुक्त करने के लिए लड़ाई लड़नी है जिससे हमारे देश के युवाओं का भविष्य उज्जवल बने। इसलिए हमारा देश भ्रष्टाचार से मुक्त होना चाहिए।

पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल के अन्य इलाकों की तरह कृष्णानगर को भी बड़ी उम्मीद की नजर से देखा जाता है। उन्होंने कहा कि मैं आपसे से एक सलाह ले रहा हूं कि बंगाल में ईडी वालों ने करीब 3000 करोड़ रुपये इनका अटैच किया हुआ है। ये पैसा गरीब लोगों का है।

इसके बाद अमृता रॉय ने कहा कि बंगाल में टीएमसी से बहुत लोग नाराज हैं, क्योंकि यह सब बहुत अत्याचार कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि मैं आपसे लीगल एडवाइज ले रहा हूं कि तो मेरी इच्छा यह है कि क्या मुझे लीगल एडवाइज मिलेगी। नई सरकार बनते ही जो भी कानूनी प्रावधान करना पड़ेगा, मैं ईडी द्वारा अटैच 3 हजार करोड़ रुपये जो गरीब लोगों का पैसा है और जिसने इस प्रकार का रुपया रिश्वत में दिया है, मैं उनका यह सारा पैसा वापस करना चाहता हूं। आप लोगों को जरूर बताएं कि मेरी पीएम मोदी से बात हुई है और उन्होंने कहा कि बंगाल के लोग विश्वास करें। ईडी ने 3000 करोड़ रुपया जब्त किया हुआ है, वो सारा पैसा बंगाल के गरीब लोगों का है और वो उनको वापस देने के लिए कोई ना कोई रास्ता निकालेंगे।

पीएम मोदी ने बताया कि बंगाल के लोग बड़ी संख्या में भाजपा के साथ आ रहे हैं। जब आप अपने क्षेत्र के लोगों से बात करती हैं, क्या लोग आपको अपनी अपेक्षाएं बताते हैं।

अमृता रॉय ने कहा कि लोग अपनी अपेक्षाएं बताते तो हैं, लोगों को आपके काम पर भी भरोसा है। मैं लोगों से पूछती हूं कि टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा का क्या होगा? लोगों ने कहा कि उनको तो जेल ही जाना होगा। पीएम मोदी ने आखिर में कहा कि आपसे बात करके अच्छा लगा और मुझे विश्वास है आप विजय होकर दिल्ली आएंगी। आपके परिवार की बंगाल की सेवा करने की परंपरा रही है, उस परंपरा को आगे बढ़ाएंगी।

इस दौरान पीएम मोदी ने उनसे कहा आप बंगाल में जीतकर आएंगी तो 100 दिन में क्या काम करना है, उसका रोडमैप निकालकर रखना। मैं पूरी तरह आपके साथ खड़ा रहूंगा। उसमें जो काम भारत सरकार को करने होंगे, वह तुरंत करने का प्रयास करेंगे।

लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर पश्चिम बंगाल में भाजपा ने कृष्णानगर लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार महुआ मोइत्रा के खिलाफ राजमाता अमृता रॉय को मैदान में उतारा है। अमृता रॉय कृष्णा नगर के राज परिवार से आती हैं। अमृता 20 मार्च 2024 को भाजपा में शामिल हुईं।

62 साल की भाजपा उम्मीदवार अमृता रॉय सौमिष चंद्र रॉय की पत्नी हैं। सौमिष चंद्र कृष्णानगर की राजबाड़ी के 39वें वंशज हैं।

बता दें कि कृष्णानगर में 18वीं सदी में इस परिवार का राज हुआ करता था। इस परिवार के महाराजा कृष्ण चंद्र रॉय का नादिया में राज साल 1728 से 1782 तक रहा था। कृष्ण चंद्र को 18 साल की उम्र में राजगद्दी मिली थी।