भारत-पाकिस्तान द्विपक्षीय श्रृंखला की मेजबानी करना चाहता है क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

0
8

नई दिल्ली, 27 मार्च (आईएएनएस)। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला की मेजबानी में रुचि व्यक्त की है। हालांकि, रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर बीसीसीआई और पीसीबी भविष्य में दोनों टीमों के बीच मैचों के लिए सहमत हों तभी इस पर चर्चा की जाएगी।

भारत और पाकिस्तान ने 2012-13 के बाद से कोई द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली है, और दोनों देश केवल विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी जैसे आईसीसी टूर्नामेंट में एक दूसरे के खिलाफ नजर आते हैं।

दोनों एशियाई देश इस नवंबर में एक ही समय पर ऑस्ट्रेलिया में होंगे, क्योंकि सीए ने 22 नवंबर से शुरू होने वाली बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी श्रृंखला के लिए भारत के पहुंचने से कुछ समय पहले पाकिस्तान के साथ अपने अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम की घोषणा की थी, जिसमें तीन वनडे मैच और तीन टी20 मैच खेले जाएंगे।

सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार, सीए के क्रिकेट संचालन प्रबंधक पीटर रोच ने मंगलवार को कहा कि हम भारत और पाकिस्तान के बीच मैच की मेजबानी करना चाहेंगे।

रोच ने कहा, “हम हमेशा बड़े मैचों के अवसरों में रुचि रखते हैं जो हमारे प्रशंसकों के लिए खास होते हैं। हम सब जानते हैं कि दुनिया का हर देश भारत और पाकिस्तान को अपने देश में प्रतिस्पर्धा करते देखना पसंद करेगा।”

2022 में एमसीजी में प्रतिद्वंद्वी देशों के बीच टी20 विश्व कप मुकाबले के टिकट पांच मिनट के भीतर बिक गए, जिससे 90,000 से अधिक प्रशंसक आकर्षित हुए।

इसी तरह, 2015 में एडिलेड में हुई भिड़ंत भी काफी चर्चित रही थी। इस मांग ने सुझाव दिया होगा कि भविष्य में पाकिस्तान-भारत मैचों के लिए ऑस्ट्रेलिया एक आदर्श वेन्यू हो सकता है।

सीए के मुख्य कार्यकारी निक हॉकले ने भी द्विपक्षीय श्रृंखला के लिए दो एशियाई देशों की मेजबानी करने की इच्छा दोहराई। उन्होंने कहा, “2022 में एमसीजी पर भारत-पाकिस्तान मैच का आयोजन इस मैदान के सबसे यादग़ार पलों में से एक था। अब कई लोग इस प्रतिस्पर्धा का फिर से गवाह बनना चाहते हैं। अगर ऐसा कोई मौक़ा आता है तो हम उस अवसर को ख़ुशी-ख़ुशी लपकेंगे। अगर इसमें हमारी कोई भूमिका हो सकती है, तो हम उस भूमिका के लिए भी तैयार हैं। हम इस समर पाकिस्तान और भारत की मेज़बानी के लिए उत्साहित हैं।”