संजय सिंह अरविंद केजरीवाल की कुर्सी पर बैठना चाहते हैं, वह दिल्ली के मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं : गौरव वल्लभ (आईएएनएस साक्षात्कार)

0
10

नई दिल्ली, 3 जून (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को आएंगे। ऐसे में कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में आए प्रोफेसर गौरव वल्लभ ने आईएएनएस के साथ साक्षात्कार में राहुल गांधी, कांग्रेस, अरविंद केजरीवाल, ईवीएम, मोदी मीडिया, एग्जिट पोल सहित कई अहम मुद्दों पर पूछे गए तमाम सवालों का बड़ी सहजता से जवाब दिया।

गौरव वल्लभ ने संजय सिंह द्वारा एग्जिट पोल पर सवाल खड़े किए जाने पर कहा कि संजय सिंह का सबसे बड़ा मकसद यह है कि वह अरविंद केजरीवाल की कुर्सी पर बैठना चाहते हैं। यह मैं आज आपको बताना चाहता हूं। संजय सिंह दिल्ली के मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। केजरीवाल की कुर्सी पर बैठना चाहते हैं। ध्यान रहे केजरीवाल, आपकी कुर्सी पर किसी की नजर है तो वह संजय सिंह हैं। संजय सिंह उस पार्टी के कार्यकर्ता हैं और उस पार्टी के नेता हैं। जो सुबह से शाम दारू का काम करती है। एक पंजाब के मुख्यमंत्री दारू पीकर ऐसी अवस्था में पहुंच गए तो हवाई अड्डे पर उन्हें नॉट फिट टू फ्लाई बोला गया। दिल्ली के मुख्यमंत्री आज दारू के अंदर भ्रष्टाचार करने के कारण जेल में हैं। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री भी शराब में भ्रष्टाचार के कारण जेल में हैं। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री भी भ्रष्टाचार के कारण जेल में हैं। ऐसी सरकार और ऐसी पार्टी मुझे नहीं लगता कि हम इस सदी में देख पाएंगे। इसलिए अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के लिए एक ही शब्द है। यह इस कलयुग के सबसे बड़े भ्रष्टाचारी हैं।

वहीं, लोकसभा चुनाव के नतीजे आने पर, दिल्ली में आप और कांग्रेस के गठबंधन का क्या होगा? इसके जवाब में गौरव वल्लभ ने कहा कि मंगलवार शाम 5 बजे के बाद कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का गठबंधन टूट जाएगा। यह लोग एक-दूसरे को टीवी पर गालियां देते हुए नजर आएंगे। दिल्ली में आप कहेगी कि कांग्रेस की वजह से हार गए और कांग्रेस कहेगी कि आप के कार्यकर्ताओं ने वोट नहीं दिया। इसी प्रकार बिहार में लालू की पार्टी कहेगी कांग्रेस की वजह से हार गए। कांग्रेस कहेगी कि लालू की पार्टी की वजह से हारे। ममता ने तो पहले ही कह दिया है, उन्होंने ऑन रिकॉर्ड बोला है कि कांग्रेस की 40 सीटें आएंगी। मेरा नहीं यह ममता बनर्जी का बयान है। जो कि कांग्रेस के साथ इंडी अलायंस में शामिल है। 4 जून शाम को 5 बजे आपको दिख जाएगा। देश के अंदर जो इंडी नाम का अलायंस बना है किस तरह तितर-बितर होगा। क्योंकि यहां पर एक तो एलायंस है। कुर्सी पर बैठने के लिए 100 लोग अपने कपड़े सिलवा चुके हैं। एग्जिट पोल आने के बाद सब लोग निराश हैं। कल नतीजे आने के बाद विपक्ष की पार्टियों के नेता कोई लंदन, थाईलैंड, बैंकॉक या दूर के देशों में भ्रमण करते हुए दिखाई देंगे।