देश के भविष्य के निर्माण का बजट, युवा, गरीब, महिला, किसान और मध्यम वर्ग को सशक्त बनाने पर जोर : पीएम मोदी

0
16

नई दिल्ली, 1 फरवरी (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए गए बजट को भारत के भविष्य के निर्माण का बजट बताते हुए कहा कि इस बजट में विकसित भारत के चार स्तम्भ, युवा, गरीब, महिला और किसान, सभी को सशक्त बनाने पर जोर दिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि बजट में गरीब और मध्यम वर्ग को सशक्त बनाने के मकसद से उनके लिए आय के नए अवसर बनाने पर भी जोर दिया गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अंतरिम केंद्रीय बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आज का ये बजट, अंतरिम बजट तो है ही, लेकिन ये बजट समावेशी और इनोवेटिव बजट है। इस बजट में निरंतरता का विश्वास है। ये बजट विकसित भारत के चार स्तंभ, युवा, गरीब, महिला और किसान, सभी को सशक्त करेगा।

उन्होंने इस शानदार बजट के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और उनकी टीम को बधाई देते हुए कहा कि ये बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है। इस बजट में 2047 के विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी है।

प्रधानमंत्री ने बजट में की गई घोषणाओं का जिक्र करते हुए कहा कि इस बजट में, युवा भारत की युवा आकांक्षाओं का प्रतिबिंब है। बजट में दो महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। रिसर्च और इनोवेशन पर 1 लाख करोड़ रुपए का फंड बनाने की घोषणा की गई है। बजट में स्टार्टअप्स को मिलने वाली टैक्स छूट के विस्तार का ऐलान भी किया गया है। इस बजट में फिस्कल डेफिसिट को नियंत्रण में रखते हुए कैपिटल एक्सपेंडीचर को 11 लाख 11 हजार 111 करोड़ रुपए की ऐतिहासिक ऊंचाई दी गई है।

“अर्थशास्त्रियों की भाषा में कहें तो ये एक प्रकार से स्वीट स्पॉट हैं। इससे भारत में 21वीं सदी के आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के साथ ही युवाओं के लिए अनगिनत रोजगार के नए अवसर तैयार होंगे। बजट में वंदे भारत स्टैंडर्ड की 40 हजार आधुनिक बोगियां बनाकर, उन्हें सामान्य यात्री ट्रेनों में लगाने का ऐलान किया गया है। इससे देश के अलग-अलग रेल रूट पर करोड़ों यात्रियों में आरामदायक यात्रा का अनुभव बढ़ेगा।”

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि उनकी सरकार एक बड़ा लक्ष्य तय करती है, उसे प्राप्त करती है और फिर उससे भी बड़ा लक्ष्य अपने लिए तय करती है। उन्होंने कहा कि गांवों और शहरों में गरीबों के लिए 4 करोड़ से अधिक घर बनाए और अब उन्होंने 2 करोड़ और घर बनाने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने 2 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था, अब इस लक्ष्य को बढ़ाकर 3 करोड़ लखपति दीदी बनाने का कर दिया गया है। आयुष्मान भारत योजना ने गरीबों की बहुत मदद की है। अब आंगनवाड़ी और आशा वर्कर, उन सबको इस योजना का लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने गरीब और मध्यम वर्ग का जिक्र करते हुए कहा कि इस बजट में गरीब और मध्यम वर्ग को सशक्त करने, उनके लिए आय के नए अवसर बनाने पर भी बहुत जोर दिया गया है। रूफ टॉप सोलर अभियान में 1 करोड़ परिवारों को सोलर रूफ टॉप के माध्यम से मुफ्त बिजली प्राप्त होगी। इतना ही नहीं, सरकार को अतिरिक्त बिजली बेचकर लोगों को 15 से 20 हजार प्रतिवर्ष की आय भी होगी और ये हर परिवार को होगी।

उन्होंने आगे कहा कि आज जिस इनकम टैक्स की नई स्कीम की घोषणा की गई है, उससे मध्यम वर्ग के करीब एक करोड़ लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। पिछली सरकारों ने आम आदमी के सिर पर दशकों से ये बहुत बड़ी तलवार लटका कर रखी थी। आज इस बजट में किसानों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण और बड़े निर्णय लिए गए हैं। नैनो डीएपी का उपयोग हो, पशुओं के लिए नई योजना हो, पीएम मत्स्य संपदा योजना का विस्तार हो और आत्मनिर्भर ऑयल सीड अभियान हो, इससे किसानों की आय बढ़ेगी और खर्च कम होगा। उन्होंने सभी देशवासियों को इस ऐतिहासिक बजट के लिए शुभकामनाएं भी दी।