बिहार में भीषण गर्मी से 14 लोगों की मौत, नीतीश कुमार ने सभी डीएम को दिए कई निर्देश

0
9

पटना, 31 मई (आईएएनएस)। बिहार के अधिकांश जिले भीषण गर्मी और लू की चपेट में हैं। शुक्रवार को भी दिनभर चिलचिलाती धूप और हीटवेव से लोग परेशान रहे। इस बीच प्रदेश में गर्मी और लू से 14 लोगों की मौत हो गई है। यहां तक कि बड़ी संख्या में लोग बीमार भी पड़ रहे हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी जिलाधिकारियों को गर्मी और लू को लेकर समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग से शुक्रवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि गुरुवार को दिन में तापमान में अत्यधिक वृद्धि हो जाने के कारण राज्य में भीषण गर्मी और लू की स्थिति उत्पन्न हुई है। अब तक प्राप्त सूचनानुसार भीषण गर्मी और लू से कुल 14 व्यक्तियों की मौत हुई है, जिसमें 10 चुनाव कर्मी एवं 4 अन्य व्यक्ति शामिल हैं।

बताया गया है कि मृतकों में भोजपुर जिला में 5, रोहतास जिला में 3, कैमूर जिला में 1 तथा औरंगाबाद जिला में 1 चुनाव कर्मी शामिल हैं। इसके अलावा 4 अन्य लोग भी मृतकों में शामिल हैं। मृतकों के परिजनों को नियमानुसार अनुग्रह अनुदान की राशि के भुगतान की कार्रवाई की जा रही है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भीषण गर्मी और भयंकर लू के प्रकोप से राज्य में उत्पन्न आपदा की स्थिति के मद्देनजर सभी जिलों के डीएम को समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, “सभी जिलों के संवेदनशील स्थानों पर पीने के पानी के टैंकर पर्याप्त संख्या में रखे जाएं। भीषण गर्मी और लू से बचने के लिए लोगों को उचित सावधानी बरतने की सलाह देते हुए माइकिंग की व्यवस्था की जाए। सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों सहित अनुमंडल एवं सदर अस्पतालों में जरूरी स्वास्थ्य सुविधाएं पूरी तरह से तैयार रखें।” उन्होंने गांव हो या शहर सभी जगहों पर निर्बाध रूप से बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए हैं।