केजरीवाल की न्यायिक हिरासत पर भाजपा ने कहा, अपराध किए हैं, तो सजा भुगतना ही होगा

0
10

नई दिल्ली, 29 जून (आईएएनएस )। दिल्ली शराब घोटाला मामले में फंसे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तीन दिनों की सीबीआई हिरासत समाप्त होने के बाद शनिवार को राउज एवेन्यू कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अब उन्हें 12 जुलाई को वीडियो कॉन्सिंग के जरिए अदालत में पेश किया जाएगा। तीन दिनों की रिमांड समाप्त होने के बाद शनिवार को सीबीआई ने मुख्यमंत्री केजरीवाल को अदालत में पेश किया, जहां उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। वहीं, केजरीवाल को न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के बाद अब राजनीतिक बयानबाजी भी तेज हो गई है। इस पर दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला की प्रतिक्रिया सामने आई है।

वीरेंद्र सचदेवा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के संबध में कहा, “कानून अपना काम कर रहा है और न्यायालय के सामने जो साक्ष्य रखे गए हैं, उसके हिसाब से कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। हमें लगता है कि आम आदमी पार्टी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शराब घोटाला मामले में संलिप्त हैं। कोर्ट ने भी बीते दिनों कहा था कि हमारे पास ऐसे साक्ष्य हैं, जिससे यह जाहिर होता है कि अरविंद केजरीवाल इस घोटाले में शामिल हैं। सचदेवा ने कहा, अगर आपने अपराध किया है, चोरी किया है, कमीशन खाई है, तो मुझे लगता है कि उसकी सजा भुगतने के लिए तैयार होना चाहिए। आपको कानूनी कार्रवाई का सामना करना ही होगा। इससे आप बच नहीं सकते हैं।“

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने भी इस संबंध में प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “एक और झटका आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को लगा है। इस बार उन्हें राउज एवेन्यू कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है, इसके बावजूद अरविंद केजरीवाल सहयोग नहीं कर रहे हैं। जांच एजेंसी कई बार इस बात को कह चुकी है कि केजरीवाल जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। इससे पहले, उन्हें हाईकोर्ट ने भी झटका दिया। सुप्रीम कोर्ट ने भी झटका दिया। जो लोग निचली अदालत के फैसले को लेकर नाच रहे थे और कह रहे थे कि डेमोक्रेसी जीवित है, अब सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट और बाकी कोर्ट के आदेश को देखकर यह न कह दें कि डेमोक्रेसी खत्म हो चुकी है। यह उनका दोहरा रवैया है। अब सवाल यह भी उठता है कि कब कानून और नैतिकता के आधार पर आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल का इस्तीफा मांगेगी और तिहाड़ से सरकार कब तक चलेगी?“

उन्होंने आगे कहा, “पहले हमने देखा है कि इन लोगों ने दिल्लीवालों को पानी की एक-एक बूंद के लिए तरसाया और अब घरों में घुटनों तक पानी पहुंच चुका है। दिल्ली में अव्यवस्था का माहौल है। ये लोग दिल्लीवासियों के हित के लिए कोई काम नहीं कर रहे हैं। पहले इन लोगों ने दिल्ली को शराब के नशे में डुबाेया और अब पानी में डुबा रहे हैं। इसके बावजूद भी निर्लज्जता से अरविंद केजरीवाल सत्ता में बने हुए हैं। आम आदमी पार्टी कभी ड्रामा करती है, तो कभी धरना देती है, लेकिन हमारा सवाल है कि ये लोग जवाबदेही कब लेंगे और अपने शराब घोटाले पर कब जवाब देंगे?“

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 21 मार्च शराब घोटाले के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने गिरफ्तार किया था। पिछले दिनों निचली अदालत ने उन्हें जमानत दे दी थी, इसके बाद ईडी ने हाईकोर्ट का रुख किया, जहां मुख्यमंत्री की जमानत पर रोक लगा दी गई ।