मध्य प्रदेश सीएम मोहन यादव ने 12 राज्यों में किया भाजपा का प्रचार

0
17

भोपाल, 31 मई (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार थम चुका है। सातवें और अंतिम चरण का मतदान एक जून को होगा। जबकि, नतीजों की घोषणा 4 जून को होगी। इस लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

उन्होंने 180 जनसभाएं की, 58 रोड शो किए और 12 राज्यों में भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार किया। भाजपा के मुताबिक, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव राज्य में चार चरणों में हुए लोकसभा के चुनाव में काफी सक्रिय रहे। उन्होंने हर लोकसभा क्षेत्र का एक बार से ज्यादा दौरा किया, जनसभाएं करने के साथ रोड शो भी किए।

राज्य में मतदान होने के बाद मोहन यादव ने देश के अन्य राज्यों में भी पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार किया। इस बार के लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री मोहन यादव ने मध्य प्रदेश में 180 जनसभाएं और 58 रोड शो किए, उसके बाद 12 राज्यों पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, दिल्ली, महाराष्ट्र, तेलंगाना, हरियाणा, पंजाब, आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार किया।

मुख्यमंत्री मोहन यादव ने देश भर में लगभग 72 लोकसभा क्षेत्रों में जाकर प्रचार किया है। मध्य प्रदेश में लोकसभा की कुल 29 सीटें हैं और इन पर चार चरणों में मतदान हुआ। उसके बाद राज्य के तमाम नेताओं ने दूसरे राज्यों की तरफ रुख किया।

भाजपा ने राज्य के कई नेताओं को दूसरे राज्यों में होने वाले चुनाव के लिए महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी थी। इनमें सबसे ज्यादा सक्रिय मुख्यमंत्री मोहन यादव रहे। इसके अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कई राज्यों का दौरा किया। उम्मीदवारों के समर्थन में जनसभाएं कर वोट मांगे।

भाजपा ने मोहन यादव को सबसे ज्यादा सक्रिय उत्तर प्रदेश और बिहार में रखा, जहां यादव मतदाताओं की संख्या ज्यादा है। इसी तरह जातीय समीकरण को ध्यान में रखकर भाजपा ने कई नेताओं को प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी थी।