बिहार की एनडीए सरकार में मांझी ने शुरू की दबाव की सियासत, दो मंत्री पद की रखी मांग

0
18

पटना, 2 फरवरी (आईएएनएस)। बिहार में एनडीए की सरकार में अभी तक मंत्रियों के विभागों का बंटवारा नहीं हुआ है। लेकिन, मंत्री पद को लेकर सहयोगी दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने दबाव की सियासत शुरू कर दी। हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने एक और मंत्री पद की मांग करते हुए कहा कि ऐसा नहीं करना अन्याय होगा।

पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने कहा कि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा को मंत्रिमंडल में कम से कम एक और मंत्री पद मिलना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि निर्दलीय को मंत्रिमंडल में स्थान भी मिल रहा है और सुनने में आ रहा है कि मनचाहा विभाग भी मिल रहा है।

मांझी ने यहां तक कहा कि उन्होंने अपनी मांग केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने भी रखी है। महागठबंधन द्वारा सीएम का ऑफर था, लेकिन, मैंने उसे ठुकरा दिया।

उन्होंने कहा कि मुझे पैसे और पद का लालच कभी नहीं रहा, जो यह समझते हैं, उन्हें गलतफहमी है।

मांझी ने पार्टी से अनिल कुमार सिंह को मंत्री बनाने की मांग उठाते हुए कहा कि ऐसा नहीं करना अन्याय होगा। वह सवर्ण समाज से आते हैं।

उल्लेखनीय है कि नीतीश कुमार की नई सरकार में मांझी की पार्टी से संतोष कुमार सुमन को मंत्री बनाया गया है।