2027 में भाजपा विपक्ष में बैठने लायक भी नहीं बचेगी : अवधेश प्रसाद

0
6

लखनऊ, 6 जून (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी से फैजाबाद से लोकसभा चुनाव जीतने वाले अवधेश प्रसाद ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा ने सारे हथकंडे अपनाए, लेकिन कुछ कर नहीं पाए। उन्होंने दावा किया कि 2027 में भाजपा विपक्ष में बैठने के लायक भी नहीं बचेगी। भाजपा के पतन की शुरुआत अयोध्या से हो गई है।

सपा के नवनिर्वाचित नेता अवधेश प्रसाद ने गुरुवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि जो राम को लाए हैं, हम उनको लायेंगे। यह नारा पूरी तरह फेल हो गया। राम इस दुनिया में पहले से हैं और हर जगह हैं। राम सबके दिल में पहले से हैं। भाजपा के अहंकार को जनता ने खत्म कर दिया है। 2027 में सपा एक बड़ी जीत दर्ज करेगी। भाजपा विपक्ष में बैठने लायक भी नहीं बचेगी।

उन्होंने कहा कि हमारे नेता अखिलेश यादव का विश्वास जनता के बीच बढ़ गया है। हमारी पार्टी देश की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। भाजपा ने चुनाव जीतने में सारे हथियार का इस्तेमाल किया। लेकिन, जनता ने सब कुछ नकार दिया।

सपा के रामभक्तों पर गोलियां चलाने के आरोप को लेकर अवधेश प्रसाद ने कहा कि यह मुद्दा बहुत पहले राख हो चुका है। उसके बाद चार बार हमारी सरकार बनी। 2027 में सरकार ऐसी बनेगी कि भाजपा एक तिहाई सीट भी नहीं जीत पाएगी। भाजपा विपक्ष में बैठने लायक भी सीट नहीं पा सकेगी। इनका 2027 में सफाया हो जायेगा। सपा की ताकत बढ़ रही है। भाजपा के पतन की शुरुआत अयोध्या से हुई है। अब वो दिन दूर नहीं, जब सारे देश से यह पार्टी साफ हो जाएगी।

बता दें कि रामनगरी में भाजपा बड़ी जीत की उम्मीद लगाए बैठी थी। मगर, इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी और सपा नेता अवधेश प्रसाद कड़े मुकाबले में 50,000 से ज्यादा मतों से जीत गए। भाजपा न सिर्फ अयोध्या हारी, बल्कि अयोध्या मंडल की सभी सीटों से पार्टी का सफाया हो गया। समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अवधेश प्रसाद को 5,54,289 वोट मिले तो भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को 4,99,722 वोट मिले। तीसरे नंबर पर बसपा प्रत्याशी सच्चिदानंद पांडे रहे। उन्हें 46,407 वोट मिले।

अवधेश प्रसाद पुराने समाजवादी नेता हैं और अयोध्या जिले की मिल्कीपुर विधानसभा से कई बार विधायक भी रहे हैं।