झारखंड में हीटवेव से 24 घंटे में 6 लोगों की मौत, पलामू में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस के पार

0
13

रांची, 30 मई (आईएएनएस)। झारखंड में गर्मी और हीटवेव जानलेवा हो गई है। भीषण गर्मी से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बीते 24 घंटों के दौरान राज्य के अलग-अलग हिस्सों में लू की चपेट में आने से कम से कम छह लोगों की मौत की सूचना मिली है।

अस्पतालों में भी बड़ी संख्या में स्ट्रोक पीड़ित मरीज पहुंच रहे हैं। हजारीबाग और गिरिडीह जिले में सैकड़ों चमगादड़ों की मौत हो गई है। वहीं, पलामू में पिछले 24 घंटों में चार लोगों की हीट स्ट्रोक से मौत हुई है।

मृतकों में मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव विकास कुमार, पाटन निवासी मुनेश्वर भुइयां, कानपुर निवासी अनिल कुमार अवस्थी और एक 65 वर्षीया महिला शामिल हैं।

अनिल कुमार अवस्थी किसी काम के सिलसिले में पलामू आए थे। वह कानपुर लौटने के लिए डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन पहुंचे थे, जहां बेहोश होकर गिर गए। बाद में स्थानीय मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। बुजुर्ग महिला का शव भी रेलवे स्टेशन के पास मिला। उनकी पहचान नहीं हो पाई है।

गिरिडीह और सरायकेला जिले में भी दो लोगों की लू से मौत की सूचना है। गिरिडीह जिला मुख्यालय और हजारीबाग जिले के पदमा में पिछले दो दिनों में पांच से छह सौ चमगादड़ों की मौत हुई है।

सूचना मिलने पर दोनों जगहों पर गुरुवार को वन विभाग की टीम जांच करने पहुंचीं। पलामू में पिछले तीन दिनों में अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा है।

मौसम विभाग के अनुसार, यहां भीषण लू चल रही है। अगले दो दिनों तक राहत की उम्मीद नहीं है।

रांची स्थित मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, 30 मई को राज्य के पलामू में सबसे ज्यादा 47.4 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया, जबकि गढ़वा का अधिकतम तापमान 47.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

सरायकेला में अधिकतम तापमान 46.3, पूर्वी सिंहभूम जिले में 44.8, गुमला में 44.7, लोहरदगा में 44.3 और रामगढ़ में 44 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

रांची में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विज्ञान केंद्र ने शाम 7.45 बजे जारी एक बुलेटिन में बताया कि पूर्वी सिंहभूम, खूंटी, देवघर, रांची, गिरिडीह, सरायकेला-खरसावां में गुरुवार देर रात हल्की बारिश हो सकती है। इस दौरान तेज हवाएं चल सकती हैं।