कारगिल विजय के 25 वर्ष, दिल्ली से द्रास तक ‘हार्ट टू ब्रेवहार्ट्स’ कार रैली

0
8

नई दिल्ली, 11 जुलाई (आईएएनएस)। कारगिल युद्ध में भारत की विजय की 25वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में ‘हार्ट टू ब्रेवहार्ट्स’ नामक कार रैली को दिल्ली से रवाना किया गया। सेना के मुताबिक ‘हार्ट टू ब्रेवहार्ट्स’ कार रैली कारगिल युद्ध वीरों के शौर्य, दृढ़ता और बलिदान के प्रति श्रद्धांजलि है। यह द्रास स्थित कारगिल युद्ध स्मारक तक जाएगी। यह कारगिल युद्ध के रजत जयंती समारोह के उपलक्ष्य में मनाई जा रही है।

गुरूवार को दिल्ली क्षेत्र के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल भवनीश कुमार ने करिअप्पा परेड ग्राउंड से कार रैली को रवाना किया।

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक कार रैली को 30 जून को तनोट सीमा चौकी, तेजू और कोच्चि बंदरगाह से एक साथ झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान नागरिकों की ओर से देश भर के सैनिकों, विशेषकर सीमाओं पर तैनात सैनिकों को संदेश दिए गए।

विभिन्न टीम 9 जुलाई को दिल्ली में एकत्रित हुईं और 11 जुलाई को उन्हें झंडी दिखाकर द्रास स्थित कारगिल युद्ध स्मारक के लिए रवाना किया गया। रैली 15 जुलाई को कारगिल युद्ध स्मारक पर समाप्त होने से पहले 10,000 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेगी। यह रैली मार्ग में पड़ने वाले विभिन्न सैन्य स्टेशनों से होकर गुजरती है और भारतीय सेना के बहादुर सैनिकों का सम्मान करती है।

सभी प्रमुख स्थानों पर ध्वजारोहण समारोह, सेवारत कर्मियों, दिग्गजों, वीर नारियों और वीर सैनिकों के परिवारजनों और प्रतिष्ठित गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में आयोजित किए जा रहे हैं। कारगिल युद्ध में अदम्य प्रदर्शन करने वाले जाबाजों और वीर नारियों को सम्मानित किया जा रहा है।

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक भारतीय सेना के सहयोग से आयोजित इस रैली में नागरिक अपने संदेश पत्र, कविता, रेखाचित्र और अन्य रचनात्मक अभिव्यक्तियों के रूप में भेज रहे हैं। जैसे-जैसे यह रैली देश के कोने-कोने से गुजर रही है, कारगिल युद्ध के दौरान साहस, बलिदान और देशभक्ति की कहानियां सुनाई जा रही हैं। यह अभियान सभी भारतीयों के लिए भारतीय सशस्त्र बलों के प्रति अपनी प्रशंसा और सराहना व्यक्त करने का आह्वान और सुअवसर है।

–आईएएनएस

जीसीबी/एबीएम