दस वर्षों में बैंकिंग व्यवस्था में हुआ बड़ा बदलाव, पहली बार मुनाफा 3 लाख करोड़ के पार

0
14

नई दिल्ली, 20 मई (आईएएनएस)। देश में बैंकिंग सेक्टर का मुनाफा पहली बार 3 लाख करोड़ के स्तर को पार कर गया है। इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताते हुए कहा है कि पिछले 10 वर्षों में बैंकों की स्थिति में काफी सुधार हुआ है और इससे गरीबों, किसानों और एमएसएमई को लोन मिलने में मदद हुई है।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा, “पिछले 10 वर्षों में बैंकों की स्थिति में उल्लेखनीय बदलाव आया है। इसके कारण भारतीय बैंकों का मुनाफा बढ़कर पहली बार 3 लाख करोड़ के पार पहुंच गया है।”

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए लिखा, “जब हम सत्ता में आए थे तो यूपीए सरकार की फोन-बैंकिंग पॉलिसी के कारण बैंक बड़े नुकसान और अधिक एनपीए का सामना कर रहे थे। इसके कारण आम लोगों के लिए बैंकों के दरवाजे बंद थे। बैंकों की सेहत में सुधार होने का सीधा फायदा गरीब, किसान और मध्यम एवं लघु उद्योगों को होगा।”

बता दें कि वित्त वर्ष 2023-24 में सरकारी और निजी बैंक ने मिलकर 3.1 लाख करोड़ का मुनाफा दर्ज किया है। इस दौरान सरकारी बैंकों का मुनाफा सालाना आधार पर 34 प्रतिशत बढ़कर 1.4 लाख करोड़ हो गया है और निजी बैंकों का मुनाफा 42 प्रतिशत बढ़कर 1.7 लाख करोड़ पहुंच गया है।

पिछले 10 वर्षों में सरकारी बैंकों में जबरदस्त बदलाव देखने को मिले हैं। बैंकों की बैलेंस शीट मजबूत हुई। साथ ही नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स (एनपीए) में बड़ी गिरावट देखने को मिली है।