मप्र में दल-बदल करने वाले कांग्रेस के 35 में से 22 विधायक गुमनामी में हैं : जीतू पटवारी

0
11

भोपाल, 16 मई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में बीते एक दशक में कांग्रेस के 35 विधायकों के दल-बदल से पार्टी को बड़़ा नुकसान हुआ है। एक बार तो सत्ता तक कांग्रेस के हाथ से चली गई। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने दल-बदल करने वाले 35 विधायकों में से 22 के गुमनामी में चले जाने का दावा किया है।

जीतू पटवारी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “सच्चाई सिर्फ यह है कि बीते 10 सालों में 35 कांग्रेसी विधायकों ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी का दामन थामा। लेकिन, उसमें से 22 नेताओं का सियासी सफर लगभग गुमनामी में चला गया है। ज्यादातर नेता या तो चुनाव हार गए या फिर उन्हें टिकट ही नहीं मिला। इन 35 नेताओं में फिलहाल नौ ही विधायक हैं और उनमें से भी केवल चार ही मंत्री पद तक पहुंच पाए।”

भाजपा पर आरोप लगाते हुए पटवारी ने कहा, “भाजपा भय और लालच के दम पर विपक्ष को खत्म करना चाहती है। डरे हुए कुछ मौकापरस्त मन बदल भी रहे हैं। लेकिन, उनकी स्थिति जनता भी देख और समझ रही है। कभी मित्र, साथी, सहयोगी रहे ऐसे चेहरों के प्रति मेरी पूरी सहानुभूति है। यह दिली इच्छा भी है कि यदि वे राजनीति को जनसेवा का जरिया मानते हों, तो ईश्वर उनकी मदद करें।”