4 जून के बाद झारखंड में सत्ता के संघर्ष से विकास का रास्ता निकलेगा : भाजपा

0
8

रांची, 31 मई (आईएएनएस)। झारखंड भाजपा प्रभारी डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने एक बड़ा दावा किया है। उन्होंने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि 4 जून के बाद झारखंड में सत्ता के संघर्ष से विकास का रास्ता निकलेगा। हेमंत सोरेन जेल में बंद में हैं और कल्पना सोरेन सत्ता के रास्ते में हैं।

उन्होंने कहा कि 30 नवंबर 2022 को प्रदेश प्रभारी का कार्यभार बाबा बैद्यनाथ की धरती से आशीर्वाद लेकर संभाला था और आज एक बार फिर बाबा बैद्यनाथ और बासुकीनाथ का आशीर्वाद लेकर आया हूं। झारखंड में दो क्रांति महत्वपूर्ण है, हुल क्रांति और उलगुलान। सिद्धू कानू की धरती से हुल क्रांति का आगाज हो रहा है। संथाल समाज पर अस्तित्व का संकट पैदा हो गया है। बांग्लादेशी घुसपैठ से वहां की संस्कृति में बदलाव हो रहा है। लव जिहाद और लैंड जिहाद दोनों हो रहा है।

उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के लिए वर्तमान सरकार ऐसा कर रही है। बांग्लादेश से आने वाले घुसपैठियों का आधार कार्ड, राशन कार्ड किसके सहयोग से बन रहा है, यह सभी को पता है। पूरे झारखंड में खनिज संपदा की लूट हो रही है। देवघर में एम्स और एयरपोर्ट, साहिबगंज में गंगा नदी पर पुल, फोर लेन, यह सब केंद्र की भाजपा सरकार की देन है।

वाजपेयी ने कहा कि हुल और उलगुलान क्रांति हुई थी। महाजनी प्रथा और अंग्रेजों के खिलाफ आवाज बुलंद की गई थी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि चार जून के बाद भ्रष्टाचार और घुसपैठ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। भाजपा की जीत का आधार महिला और युवा पीढ़ी है। हम प्रदेश की सभी चौदह सीट जीत रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी की कन्याकुमारी में साधना पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि जिनके पेट में दर्द हो रहा है वो डॉक्टर से अपना इलाज कराएं।

सवाल करते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग पीएम मोदी की साधना पर सवाल उठा रहे हैं, क्या उन्हें किसी ने साधना करने से या भगवान की शरण मे जाने से रोका है। उनका रोग लाइलाज है, ऐसे लोग इधर-उधर भागते फिर रहे हैं।