बिहार की 40 लोकसभा सीटों के लिए मतगणना जारी, सुरक्षा के कड़े प्रबंध

0
11

पटना, 4 जून (आईएएनएस)। बिहार में लोकसभा की 40 सीटों पर मंगलवार को वोटों की गिनती शुरू हो गई। मतगणना को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। शुरुआत में पोस्टल बैलेट की गिनती हो रही है।

मतगणना के लिए 40 केंद्र बनाए गए हैं। इस बार 7 चरणों तक चले चुनाव में कुल 497 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं। आज ही कौन जीतेगा, उसका फैसला हो जाएगा।

इस चुनाव में कुल 56.19 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

माना जा रहा है कि सबसे पहले शिवहर, किशनगंज, पूर्वी चंपारण, पाटलिपुत्र सीट के परिणाम आ सकते हैं। मतगणना को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। सभी केंद्रों में त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पहली पंक्ति में ज्यादातर केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। मतगणना से पहले विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम खोला गया।

सभी मतगणना केंद्रों पर धारा 144 लागू रहेगी। किसी भी उम्मीदवार के जीतने के बाद कोई विजय जुलूस या मार्च निकालने पर पाबंदी रहेगी। जुलूस निकालने के पहले अनुमति लेनी होगी।

बिहार में एनडीए में भाजपा, जदयू, लोजपा (रामविलास), जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा और उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक मोर्चा शामिल है। बिहार की 40 लोकसभा में भाजपा 17, जदयू ने 16, लोजपा (रा) ने 5 तथा जीतनराम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा को एक-एक सीटें दी गई थी।

दूसरी ओर महागठबंधन में राजद 26, कांग्रेस नौ और वामपंथी दलों ने पांच सीटों पर चुनाव लड़ा है। राजद ने अपने कोटे से तीन सीटें मुकेश सहनी की पार्टी विकासशील इंसान पार्टी को दे दी थी। मुकेश सहनी की पार्टी ने गोपालगंज, झंझारपुर और मोतिहारी में अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले चुनाव में एनडीए ने 39 सीटों पर जीत दर्ज की थी, जबकि कांग्रेस को एक सीट मिली थी। राजद का खाता भी नहीं खुला था।