उत्तराखंड में ऑरेंज अलर्ट : गंगोत्री धाम में हुई बर्फबारी, मैदानी इलाकों में बारिश के साथ चली आंधी

0
7

देहरादून, 30 मार्च (आईएएनएस)। प्रदेश में एक बार फिर मौसम बदल रहा है। बीते कई दिनों से हो रही तेज गर्मी के बाद शनिवार को अचानक मौसम ने करवट बदली। तड़के से ही पहाड़ से मैदान तक झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया। कुछ जगहों पर पहाड़ों पर बर्फ़बारी भी शुरू हो गई। उत्तरकाशी में ठंडी हवाएं चलने से पारा तेज़ी से नीचे लुढ़का और तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हुई। सुबह से ही गंगोत्री धाम में बर्फबारी भी हुई जिससे तापमान एक बार फिर कम हो गया, और ठंड बढ़ गई।

प्रदेश में शनिवार और रविवार को मौसम का मिजाज बदला रहेगा। मौसम विभाग ने राज्य में अगले 48 घंटे के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है जिसमें प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में आंधी-बारिश-ओलावृष्टि और बिजली चमकने की संभावना के साथ ही 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की भी संभावना है। जिला प्रशासन भी अलर्ट मोड पर आ गया है। संवेदनशील स्थानों पर टीम, जेसीबी और मशीन तैयार रखने को कहा है। साथ ही अधिकारियों को मुख्यालय में रहने और मोबाइल ऑन रखने के भी निर्देश जारी किये गये हैं। पिथौरागढ़, नैनीताल, बागेश्वर, देहरादून, हरिद्वार और उधम सिंह नगर जिलों में मध्यम बारिश के साथ ओलावृष्टि और बिजली चमकने का पूर्वानुमान भी जारी किया है।

कई जगहों पर हल्की ओलावृष्टि भी हुई। तेज हवाएं चलने से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। इससे मार्च में ही पड़ रही मई-जून जैसी गर्मी से लोगों को राहत मिली। देहरादून में सुबह ही आसमान में बिजली चमकने के साथ काले बादल छा गए और बारिश भी हुई। ‘पहाड़ों की रानी’ मसूरी में गरज के साथ बारिश हुई और हल्के ओले भी पड़े। टिहरी जिले में सुबह पांच बजे से बारिश हो रही है जो जंगलों के लिए अच्छी रही। जंगलों में लगी आग बुझाने में बारिश काफी मददगार साबित हुई।

जौलीग्रांट क्षेत्र में सुबह पांच बजे से ओलावृष्टि और बारिश हुई। विकासनगर के पछवादून क्षेत्र में आंधी के साथ तेज बारिश शुरू हुई। बारिश के कारण कई जगहों पर पेड़ भी गिरे। इतना ही नहीं तेज़ हवाओं के कारण बाजारों में दुकानों के बोर्ड उखड़कर सड़क पर आ गए हैं। आंधी और बारिश के बीच क्षेत्र में सुबह से ही बिजली भी गुल है।