समाजवादी पार्टी से एक ही परिवार के 5 सांसद लोकसभा में आ सकते हैं नजर !

0
6

नई दिल्ली, 4 जून (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के परिणाम पर सबकी निगाहें टिकी हुई थी। अभी नतीजों और रुझानों को देखें तो समाजवादी पार्टी ने यहां भाजपा की सीटों में बड़ी सेंध लगाई है। 2019 के मुकाबले भाजपा को इस बार यहां ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा है। समाजवादी पार्टी ने एक सीट जीत ली है। वहीं, 36 सीटों पर आगे चल रही है।

समाजवादी पार्टी की तरफ से मैनपुरी से डिंपल यादव ने जीत दर्ज कर ली है। वह स्वर्गीय मुलायम सिंह (नेता जी) की बहू और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी हैं। उन्होंने भाजपा के जयवीर सिंह को 2,21,639 वोटों के बड़े अंतर से शिकस्त दी है।

बता दें कि इस बार जो आसार नजर आ रहे हैं, उसके अनुसार सपा की तरफ से स्वर्गीय मुलायम सिंह (नेता जी) के परिवार से ही 5 लोग संसद में नजर आ सकते हैं।

मैनपुरी से डिंपल यादव की जीत के बाद लोगों की नजर फिरोजाबाद से राम गोपाल यादव के बेटे और सपा के उम्मीदवार अक्षय यादव पर टिकी है जो अभी वहां से बढ़त बनाए हुए हैं।

इसके साथ ही बदायूं से आदित्य यादव, जो शिवपाल सिंह यादव के सुपुत्र हैं, वह आगे चल रहे हैं। साथ ही कन्नौज सीट से यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा सुप्रीमो होने के साथ स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव (नेता जी) के बेटे अखिलेश यादव आगे चल रहे हैं।

वहीं, आजमगढ़ सीट से भाजपा के उम्मीदवार और भोजपुरी कलाकार दिनेश लाल यादव निरहुआ को पछाड़ते हुए अभय राम यादव के बेटे और स्वर्गीय मुलायम सिंह के भतीजे धर्मेंद्र यादव आगे चल रहे हैं।

ऐसे में समाजवादी पार्टी के यह सभी नेता अगर चुनाव जीत जाते हैं तो एक ही परिवार के 5-5 सांसद लोकसभा में नजर आने वाले हैं।