गौतमबुद्ध नगर से भाजपा प्रत्याशी महेश शर्मा ने रिकॉर्ड मतों से जीत की दर्ज

0
8

नोएडा, 4 जून (आईएएनएस)। गौतमबुद्ध नगर से लगातार तीसरी बार जीत दर्ज करके भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने हैट्रिक लगाई है। डॉ. शर्मा ने 5 लाख 59 हजार 472 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है।

उत्तर प्रदेश में यह अब तक सबसे बड़ी जीत मानी जा रही है। इस बार महेश शर्मा को 8 लाख 57 हजार 829 वोट मिले। जिला निर्वाचन अधिकारी ने महेश शर्मा को जीत का प्रमाण पत्र सौंपा।

लोकसभा चुनाव में सपा-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी डॉ. महेंद्र नागर को 2 लाख 98 हजार 357 वोट मिले। तीसरे स्थान पर रहे बसपा प्रत्याशी राजेंद्र सिंह सोलंकी को 2 लाख 51 हजार 615 वोट मिले।

लगातार तीन बार जीत कर हैट्रिक लगाने वाले महेश शर्मा को 2009 के लोकसभा चुनाव में करीब 15 हजार मतों से हार का सामना करना पड़ा था। उस समय बसपा प्रत्याशी सुरेंद्र नागर ने उन्हें हराया था।

इसके बाद 2014 में भाजपा ने समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार को 2,80,212 मतों के भारी अंतर से हराया था। 2019 में जीत का अंतर और बढ़ा। इस चुनाव में महेश शर्मा ने बसपा उम्मीदवार को 3,36,922 मतों से मात दी। इस चुनाव में बसपा और सपा में गठबंधन था।

इस बार सपा-कांग्रेस गठबधंन में नोएडा में सपा से अपना प्रत्याशी उतारा था। लेकिन, डॉ. महेश शर्मा के आगे मतदाताओं ने सभी 14 प्रत्याशियों को सिरे से नकार दिया। गौतमबुद्ध नगर में कुल 24 राउंड की काउंटिंग की गई। पहले ही राउंड से भाजपा ने बढ़त बनाई और यह अंतिम राउंड तक कायम रही।

जबकि, नोएडा में 2019 की अपेक्षा इस बार वोटिंग प्रतिशत काफी कम रहा। 2019 में कुल 60.49 प्रतिशत मत पड़ा था। जबकि, 2024 में 52.46 प्रतिशत वोटिंग हुई।

गौतमबुद्ध नगर में इस बार 15 प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे। यहां 26 लाख से ज्यादा मतदाता थे, जिसमें से 52.46 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार किया था। प्रमुख पार्टी के अलावा 12 प्रत्याशी अपनी जमानत तक नहीं बचा सके। इसमें से पांच प्रत्याशी ऐसे रहे, जिन्होंने हजार का आकड़ा तक पार नहीं किया। सात प्रत्याशी 5 हजार के आकड़े तक को नहीं छू सके।

गौतमबुद्ध नगर में इस बार 10 हजार से ज्यादा लोगों ने नोटा को चुना। यहां प्रत्याशियों का विरोध भी काफी रहा। गौतमबुद्ध नगर में 12 प्रत्याशी नोटा के आकड़ें तक को नहीं छू सके।

–आईएएनएस

पीकेटी/एबीएम